2016 में जापान ने झेले 6000 से ज्‍यादा भूकंप, बड़ी आफत की तरफ इशारा

वर्ष 2015 में जापान में आए थे सिर्फ 1,842 भूकंप तो वर्ष 2016 में बढ़ गया आंकड़ा। वर्ष 2011 में जापान में रिकॉर्ड किए गए थे 10,000 से ज्‍यादा भूकंप।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

टोक्‍यो। इस वर्ष जापान में आए भूकंपों की संख्‍या सुनकर आप हैरान हो जाएंगे। जापान में वर्ष 2016 के दौरान करीब 6500 भूकंप आए और यह संख्‍या वर्ष 2015 की तुलना में तीन गुना ज्‍यादा है। जापान के मेटियोरॉजिकल एजेंसी की ओर से यह जानकारी दी गई है।

earthquake-in-japan-जापान-में-भूकंप
 

गुरुवार तक आए 6,566 भूकंप

गुरुवार को शाम सात बजे तक जापान में 6,566 भूकंप रिकॉर्ड हुए थे। वर्ष 2015 में जापान में 1,842 भूकंप आए थे। जापानी एजेंसी का कहना है कि वह भूकंप की तीव्रता जीरो से सात के बीच मापती है। उसका फोकस प्रभावित इलाकों में रहता है। वर्ष 2011 में जब जापान में भयानक सुनामी आई थी उस समय यहां पर 10,000 भूकंप रिकॉर्ड किए गए थे। ज्‍यादातर भूकंप सुनामी के बाद आने वाले झटकों के तौर पर थे। इस सुनामी में जापान का फुकुशिमा न्‍यूक्लियर सेंटर पूरी तरह से तबाह हो गया था। वर्ष 2011 के बाद से जापान में आए भूकंपों की संख्‍या में कमी आई है लेकिन इस वर्ष का आंकड़ा किसी ताकतवर भूकंप की वजह बन सकता है। यह भूकंप बिल्‍कुल वैसा ही होगा जैसा इस वर्ष अप्रैल में जापान के क्‍यूशू आईलैंड के कुमाटो में आया था। पढ़ें-रिंग ऑफ फायर जापान, जहां भूकंप आना है आम बात

सिर्फ अप्रैल में ही 3,000 भूकंप

14 अप्रैल को कुमाटो में जापान में पहला भूकंप रिकॉर्ड हुआ। रिक्‍टर स्‍केल पर इसकी तीव्रता 6.5 थी और जापानी स्‍केल पर यह पांच था। इसके दो दिन बाद 7.3 की तीव्रता वाला एक और भूकंप आया जिसमें 50 लोगों की मौत हो गई थी और बड़े स्‍तर पर नुकसान झेलना पड़ा। अकेले अप्रैल माह में ही जापान में 3,000 भूकंप के झटके आए और ये सभी साउथ वेस्‍टर्न जापान में आए। जापानी एजेंसी के डाटा के मुताबिक 33 भूकंप पांच से ज्‍यादा या पांच से कम के स्‍तर पर थे। सबसे हालिया भूकंप बुधवार की रात को आया था। जापान के इबाराकी में आए इस भूकंप की तीव्रता 6.3 थी। जापानी स्‍केल पर यह छह था और किसी तरह का सुनामी अलर्ट जारी नहीं हुआ था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Number of earthquakes that struck Japan in 2016 exceeded 6,500. According to Japan Meteorological Agency the number is three times more than previous year.
Please Wait while comments are loading...