डोनाल्ड ट्रंप ही हैं अमेरिका के राष्ट्रपति, जिन्हें पसंद नहीं वो दूसरे देश जा सकते हैं: जज

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद से उनक विरोध शुरु हो गया है। लोग उनके खिलाफ बोल रहे हैं। कुछ जगहों पर हिंसक घटनाएं भी सामने आई। लेकिन देशभर में हो रहे इस विरोध पर अमेरिका के एक फेडरल जज ने लोगों की ही देश छोड़ देने की धमकी दी है।

donald trump

जज जॉह्न प्रीमोमो ने कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति है, जो लोग उनका विरोध कर रहे हैं, वे लोग किसी दूसरे देश में जाकर बस जाएं। सेन अंटानियो के जज जॉह्न प्रीमोमो ने कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के सभी नागरिकों के भावी राष्ट्रपति हैं चाहें उन्होंने ट्रंप को अपना वोट दिया हो या न दिया हो। उन्होंने कहा कि चाहे वो किसी को पसंद हो या न हो, लेकिन ट्रंप ही अमेरिका के राष्ट्रपति रहेंगे।

100 दिनों में ट्रंप की योजनाएं भारत को हो सकता है नुकसान

उन्होंने कहा कि ट्रंप को जो लोग पसंद नहीं करते वो अमेरिका छोड़कर किसी दूसरे देश जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को विरोध का अधिकार हैं, लेकिन ट्रंप के विरोध प्रदर्शन के लिए अमेरिकी राष्ट्र ध्वज का अपमान करना ठीक नहीं। आपको बता दें कि जॉह्न के इस बान के बाद से उनका विरोध शुरु हो गया है। लोग उन्हें पद से हटाने की मांग करप रहे हैं। लोगों ने इसके लिए हस्ताक्षर अभियान शुरु कर दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Federal Magistrate Judge John Primomo presided over the induction ceremony on Friday. In his speech to the emigres, he touched on the protests that have cropped up across the nation since Trump's election.
Please Wait while comments are loading...