प्रेमी के करीब खड़ी हुई लड़की तो मौलवी ने मरवाए 23 कोड़े, इस्लामिक कानून तोड़ने का आरोप

असेह इंडोनेशिया का इकलौता प्रांत है जहां शरिया कानून लागू है और जहां लोगों को जुआ खेलने, शराब पीने और समलैंगिक संबंधों के लिए भी सजा दी जाती है।

Subscribe to Oneindia Hindi

जकार्ता। इंडोनेशिया में कथित रूप से इस्लामिक कानून का उल्लंघन करने पर एक युवती को 23 कोड़े मारे गए। जब युवती को यह सजा दी जा रही थी तो वहां खड़ी भीड़ ताली बजा रही थी।

Muslim Woman

असेह प्रांत में हुई इस घटना में पीड़ित युवती की पहचान नहीं हो सकी है। असेह इंडोनेशिया का इकलौता प्रांत है जहां शरिया कानून लागू है और जहां लोगों को जुआ खेलने, शराब पीने और समलैंगिक संबंधों के लिए भी सजा दी जाती है। पीड़ित लड़की उन 13 लोगों में शामिल थी जिन्हें सोमवार को यह सजा दी गई।

पढ़ें: मासूम लड़की के हाथ बांध कर पुलिसवाले ने की दरिंदगी, बहनों ने बनाया वीडियो

शारीरिक संबंध बनाने पर भी पड़े कोड़े
युवती पर आरोप था कि वह अपने प्रेमी के ज्यादा नजदीक खड़ी थी। शारिया कानून के मुताबिक, अविवाहित जोड़ों का नजदीक आना, छूना, गले मिलना, किस करना गुनाह माना जाता है। उसकी तरह छह अन्य जोड़ों को भी कानून तोड़ने और अंतरंग होने के आरोप में सजा दी गई। इस दौरान एक शख्स को महिला के साथ शारीरिक संबंध बनाने के आरोप में भी कोड़े मारे गए।

पढ़ें: शादी के लिए अनजान लड़कियों के साथ डेट पर भेजते थे मां-बाप, लड़के ने उठाया खतरनाक कदम

गर्भवती महिला को बाद में सजा देने की चेतावनी
22 वर्षीय एक महिला को इस दौरान सजा नहीं दी गई क्योंकि वह गर्भवती है। हालांकि उसे चेतावनी दी गई है कि बच्चे का जन्म होने के बाद उसे यह सजा दी जाएगी। बीते साल एक महिला को इस तरह प्रताड़ित किया गया था कि आखिरकार उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

पढ़ें: 25 साल की टीचर को 16 साल के छात्र से हुआ इश्क, संबंध बनाए तो हुई गिरफ्तार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indonesian girl sentenced 23 lashes for standing close to her boyfriend.
Please Wait while comments are loading...