आखिर क्‍यों अरबों-खरबों वाला अपना कारोबार छोड़ रहे हैं ट्रंप?

अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने किया ऐलान व्‍हाइट हाउस के लिए 20 जनवरी को बिजनेस छोड़ देंगे। 15 दिसंबर को होने वाली कांफ्रेंस में करेंगे औपचारिक ऐलान।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

न्‍यूयॉर्क। अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने ऐलान किया है कि वह अपने बिजनेस को अलविदा कहकर व्‍हाइट हाउस पर ही ध्‍यान लगाएंगे। वह 20 जनवरी को व्‍हाइट हाउस में अपना आफिस संभालने से पहले किसी भी तरह के हितों के टकराव से बचाना चाहते हैं।

donald-trump-leave-business-white-house

पढ़ें-ट्रंप ने पाक को बताया शानदार देश और लोगों को कहा शानदार?

15 दिसंबर को होगा औपचारिक ऐलान

ट्रंप 15 दिसंबर को इस बारे में वह एक न्‍यूज कांफ्रेंस में औपचारिक ऐलान करेंगे। इसके साथ ही सभी बिजनेस से खुद को अलग कर लेंगेे।

रियल एस्‍टेट से जुड़े बिजनेस टायकून ट्रंप पनामा से लेकर स्‍कॉटलैंड तक कई होटल्‍स और गोल्‍फ रिसॉटर्स के मालिक हैं।

ट्रंप की कंपनी ट्रंप ऑर्गनाइजेशन की ओर से पहले कहा गया था कि वह अब नए स्‍ट्रक्‍चर की तरफ देख रहा है जहां पर डोनाल्‍ड ट्रंप जूनियर, ट्रंप की बेटी इंवाका और बेटे एरिक ट्रंप के हाथ में नियंत्रण होगा।

तीनों ही ट्रंप के बिजनेस में काफी सक्रिय हैं। ट्रंप के बच्‍चे ट्रंप की व्‍हाइट हाउस ट्रांजिशन टीम की एग्जिक्‍यूटिव कमेटी में भी श‍ामिल हैं।

पढ़ें-ट्रम्प एंड फैमिली की एक दिन की सुरक्षा पर होंगे 7 करोड़!

बिजनेस से अलग होना जरूरी

ट्रंप ने कई ट्वीट्स किए थे और इनमें उन्‍होंने कहा था कि बिजनेस ऑपरेशंस से उन्‍हें बाहर करने के लिए कानूनी प्रक्रिया से जुड़े कागजात तैयार किए जा रहे हैं। ट्रंप ने कहा कि उनके बच्‍चे 15 दिसंबर को होने वाली न्‍यूज कांफ्रेंस में
शामिल होंगे।

इससे पहले ट्रंप ने कहा था कि उन्‍हें खुद को ट्रंप ऑर्गनाइजेश से खुद को अलग करने की कोई जरूरत नहीं है।

ट्रंप ने कहा कि उन्‍हें खुद को अपने बिजनेस से अलग करने या उनके बिजनेस के साथ उनका रिश्‍ता बदलने के लिए किसी कानून की जरूरत नहीं है लेकिन यह काफी जरूरी है।

उन्‍हें लगता है कि राष्‍ट्रपति के तौर पर कानूनी तौर पर उनका अलग होना काफी जरूरी है ताकि कई तरह के बिजनेस में आने वाले समय में हितों का कोई टकराव न हो।

पढ़ें-व्‍हाइट हाउस के ऑफिस से काम नहीं कर पाएंगे ट्रंप!

ट्रंप की दादी ने शुरू किया ट्रंप ऑर्गनाइजेशन

ट्रंप ऑर्गनाइजेशन की शुरुआत वर्ष 1923 में हुई थी। डोनाल्‍ड ट्रंप की दादी एलिजाबेथ ट्रंप ने अपने बेटे यानी डोनाल्‍ड ट्रंप के पिता फ्रेड ट्रंप के साथ मिलकर इसकी शुरुआत की थी।

फ्रेड ट्रंप की उम्र उस समय 18 वर्ष थी। एलिजाबेथ ट्रंप के पति फ्रेडरिक ट्रंप सन 1906 में न्‍यूयॉर्क चले गए और यहां पर फ्रे‍डरिक ने रियल एस्‍टेट का काम शुरू किया था।

सन 1918 में फ्रेडरिक का इनफ्लुएंजा की वजह से निधन हो गया। मौत के समय वह अपने पीछे करीब 31,359 डॉलर की कीमत वाली जमीन छोड़कर गए थे।

आज के दौर में यह रकम करीब 492,016 अमेरिकी डॉलर है। इस रकम के साथ ही एलिजाबेथ ने एलिजाबेथ एंड संस नाम से बिजनेस शुरू किया।

पढ़ें-अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के बारे में 20 खास बातें

500 तरह के बिजनेस

आज ट्रंप ऑर्गनाइजेशन करीब 500 बिजनेस वाला ग्रुप है जिसमें डोनाल्‍ड ट्रंप प्राथमिक मालिकाना हक रखते हैं।

वह ग्रुप में चेयरमैन और प्रेसीडेंट के तौर पर हैं और उनके तीनों बच्‍चे इसमें एग्जिक्‍यूटिव के तौर पर हैं। ट्रंप ऑर्गनाइजेशन का हेडक्‍वार्टर न्‍यूयॉर्क स्थित ट्रंप टावर में है। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US Elect president Donald Trump has said that he is leaving his business and will focus on White House.
Please Wait while comments are loading...