मसूद पर चीन ने दी सफाई, कहा- विचार के लिए मिला कमेटी को समय

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने वाले भारत के प्रस्ताव पर दोबारा वीटो लगा कर 'तकनीकी रोक' लगाने वाले चीन ने इस पर सफाई दी है।

MASOOD

चीन का कहना है कि इस प्रस्ताव पर अलग-अलग विचार है।

बोले राजनाथ- जवाब देते वक्त गोलियां नहीं गिनेगा भारत

हैं अलग-अलग विचार

समाचार एजेंसी पीटीआई को लिखित प्रश्न के जवाब में चीन ने कहा है कि भारत की ओर से मार्च में दिए गए आवेदन पर अभी अलग-अलग विचार हैं।

युवा वैज्ञानिक बोलीं, जल्दी पता चलेगी भूत के साए वाले पेड़ के पीछे की कहानी

तकनीकी रोक लगाने से कमेटी को इस मामले पर संबंधित पक्षों से बात और विचार करने के लिए और वक्त मिल जाएगा।

हालांकि चीन की ओर से यह स्पष्ट नहीं किया गया कि मसूद को अंतरराष्ट्री आतंकी घोषित करने को लेकर भारत के प्रस्ताव पर कौन सा देश, किस पहलू पर चर्चा करना चाहता है।

चीन की ओर से लगाई गई यह तकनीकी रोक लगाने से तीन महीने की रोक और लग गई है।

14 देश हैं पक्ष में

बता दें कि इससे पहले चीन ने 6 माह पहले भी मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आंतकी करने संबंधित भारत के प्रस्ताव पर वीटो का प्रयोग किया था।

नौगाम में सेना को आतंकियों के पास से मिले मेड इन पाकिस्‍तान ग्रेनेड

संयुक्त राष्ट्र की 1267 कमेटी के अंतर्गत इस प्रस्ताव के पक्ष में 14 देश हैं किन्तु चीन फिलहाल इसके विरोध में है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
China gave clarification on using veeto power for masood azhar in united nations.
Please Wait while comments are loading...