अमेरिका में भारत की बेटी ने की बड़ी खोज, बैंडेज खुद बताएगी घाव कितना भरा

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। भारत मूल की 13 साल की लड़की जो अमेरिका में ओरेगन राज्‍य में रहती है ने एक ऐस खोज किया जिसे जानकर आपको गर्व होगा। लड़की का नाम अनुष्‍का नाईकनवरे है और उसने ऐसा बैंडेज खोजा है जो यह बताएगा कि घाव कितना भरा है। इतना ही नहीं इसके अलावा यह बैंडेज यह भी नोटिफाई करेगा कि इसे कब बदलना है। यह बैंडेज घाव की नमी को ध्‍यान में रखकर डॉक्‍टरों को अलर्ट करेगा।

A bandage that tells you when it needs changing
 

अमेरिका के डॉक्‍टर इस बैंडेज को मेडिकल जगत में लिए काफी अ‍हम बता रहे हैं। इस खोज के लिए गूगल ने अनुष्‍का को 10 लाख रुपए की स्‍कॉलरशिप दी है।

जानिए क्‍या है विधानसभा चुनाव के लिए FACEBOOK का खास बटन?

डेलीमेल ऑनलाइन के मुताबिक अनुष्‍का का कहना है कि इस तरह का बैंडेज बनाने का आइडिया उन्‍हें क्‍लासरूम में ही आया था। उन्होंने कहा कि इस बैंडेज से डॉक्टरों और नर्सों को घाव की स्थिति समझने में काफी मदद मिलेगी।

'नीतीश जी! मेरा रेपिस्‍ट बाहर आ गया है, अब मेरे साथ क्‍या होगा?' 

इससे वह किसी घाव की अच्छी देखरेख कर सकेंगे। इतना ही नहीं यह बैंडेज अन्‍य बैंडेजों के मुताबिक संक्रमण रोकने में ज्‍यादा मददगार होगा। कहा तो यह भी जा रहा है कि यह बैंडेज दर्द से भी छुटकारा दिलाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
An Oregon teenager has invented a bandage that can tell doctors when it needs to be changed, impressing Google judges and securing a scholarship.
Please Wait while comments are loading...