नशे की भेंट चढ़ गए घरवाले और 7 साल की मासूम उन्हें जगाने की कोशिश करती रही

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पेंसिलवेनिया। नशा किस कदर अमेरिका को अपनी चपेट में ले रहा है इसका अंदाजा पिट्सबर्ग की इस घटना से लगाया जा सकता है जहां महज 7 साल मासूम अपने घरवालों को जगाने के लिए लंबे समय से कोशिश कर रही है लेकिन वह नशे की ओवरडोज की वजह से इस दुनिया में नहीं है।

christopher

बॉर्डर पर तनाव के बीच सुषमा ने की पाकिस्तानी बेटी की मदद

बस ड्राइवर से बोली मासूम कोई जग नहीं रहा

पिट्सबर्ग में 7 साल की मासूम हर रोज की तरह स्कूल जाने के लिए तैयार होती है लेकिन वह अपने घरवालों के बारे में किसी को नहीं बताती है। पुलिस का कहना है कि बच्ची ने स्कूल से घर जाते वक्त बस ड्राइवर से कहा था कि वह अपने घर मे लोगों को जगाने में विफल रही है।

पीओके में घुसकर आतंकियों को मारने वाले कमांडोज से मिलेंगे मोदी!

घर में मिला दो लोगों का शव 

लेकिन जब पुलिस बच्ची के घर के भीतर गई तो देखा कि क्रिस्टोफर डिली (26) व जेसिका लैली (25) ओवरडोज की वजह से मृत्यु हो गई है। पुलिस का कहना है कि यह मामला नशे की ओवरडोज का लगता है।

समुद्री तूफान मैथ्‍यू ने मचाई तबाही, 26 की मौत और लाखों ने छोड़ा घर

घर में थे तीन और मासूम बच्चे

घर में इन दोनों के अलावा तीन और मासूम बच्चे हैं जिनकी उम्र 5 व 3 वर्ष व 9 माह है। हालांकि इन बच्चों को किसी भी तरह की चोट नहीं लगी है लेकिन इनकी जांच के लिए पुलिस ने इन्हें अस्पताल भेजा है।

ओवरडोज से मरने वालों की संख्या में इजाफा

इस मामले के सामने आने से नशे पर बड़ी समस्या पर बहस शुरु हो गई है कि कैसे यह परिवार पर भी बड़ी दुष्प्रभाव डाल रहा है। यहां के स्वास्थ्य अधिकारी का कहना है कि अमेरिका में नशा एक बड़ी महामारी है और इससे पेनिंनसुला का एलेगेनी काउंटी अछूता नहीं है।

पिछले साल एलीगेनी में 422 लोगों की ओवरडोज की वजह से मृत्यु हो गई, यह देश में अब तक की सबसे बड़ी त्रासदी है और यह लगातार बढ़ रही है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
7 year old girls unable to awake her parent who are died of overdose of Opium. Police says death of overdose is increasing everyday.
Please Wait while comments are loading...