भारत की जुड़वां बहनों ने अमेरिका में बुलंद किया तिरंगा

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत की बेटियों ने एक बार फिर से देश का नाम रौशन किया है। भारतीय मूल की तीन छात्राओं ने अमेरिका में 67 लाख रुपए का ईनाम जीतकर देश का सिर गौरव से ऊंचा कर दिया।

 Indian-origin identical twin sisters

भारतीय मूल की जुड़वा बहन श्रिया बीसम और आदित्या बीसम के साथ विनीत इदुपुगन्ति को अमेरिका में 67 लाख रुपए की स्कॉलपशिप मिली है। आदित्या और श्रेया को उनके मेडिकल प्रोजेक्ट्स के लिए सालाना 17th सीमेंस मैथ, साइंस एंड टेक्नोलॉजी कॉम्पिटीशन में यह स्कॉलरशिप मिली है, जबकि विनीत को उनके बॉयोडिग्रेडिबल बैटरी के लिए ये स्कॉलरशिप दी गई है।

आदित्या और श्रेया 11वीं की छात्रा हैं और उन्होंने अपने प्रोजेक्ट में सीजोफ्रेनिया बीमारी होने से पहले ब्रेन स्केन और साइकेट्रिक जांच से उसका पता लगाने का तरीका खोजा है। जबकि विनीत पोर्टलैंड में रहती हैं और 10वीं की छात्रा है। उन्होंने बॉयोडिग्रेडिबल बैटरी की खोज की है, जिसे इंटरनल ऑर्गन्स की जांच के लिए मुंह से अंदर डालने वाली मेडिकल डिवाइसेस में इस्तेमाल किया जा सकता है।

सीमेंस में इन तीनों के अलाला इंडीविजुअल कैटेगरी कुछ और स्टूडेंट्स को भी स्कॉलरशिप मिली है, जिसमें लॉस एल्टोस के मनन शाह , टेक्सॉस के प्रतीक कलाकुंतला और टॉवर लेक्स के प्रणब शिवकुमार शामिल हैं। आपको बता दें कि सीमेंस फाउंडेशन हर साल ये कॉम्पिटिशन करवाती है, जिसमें 2146 स्कूल के 1600 छात्रों ने हिस्सा लिया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indian-origin identical twin sisters and another teen got $100,000 grand prize scholarships in the 17th annual Siemens Math, Science and Technology Competition with their medical projects.
Please Wait while comments are loading...