एक फोन कॉल से हुआ बेवफाई का शक, महिला ने पति को जिंदा जलाया, खुद भी की आत्महत्या

पति को मरा समझकर सावित्री कमरे के अंदर गई और खुद को भी आग के हवाले कर लिया। जंगैया का छोटा भाई राजू पड़ोस में ही रहता है। वह उन दोनों को लेकर अस्पताल गया।

Subscribe to Oneindia Hindi

हैदराबाद। पति के फोन में आने वाली एक कॉल से परेशान होकर एक महिला ने उसकी हत्या कर दी। पति को मारने के बाद उसने खुद भी आत्महत्या कर ली। घटना हैदराबाद की है। शनिवार को हुई घटना में सावित्री नाम की महिला ने शराब के नशे में धुत पति को जिंदा जला दिया और फिर खुद को भी आग के हवाले कर लिया। दोनों की शादी एक साल पहले हुई थी। उन दोनों की यह तीसरी शादी थी।

एक फोन कॉल से हुआ बेवफाई का शक, महिला ने पति को जिंदा जलाया, खुद भी की आत्महत्या

साथ में रहती थी 17 साल की बेटी
पुलिस ने बताया कि बारलापल्ली जंगैया (45) कंस्ट्रक्शन वर्कर का काम करता था। वह विकाराबाद जिले के चित्तमपल्ली गांव का रहने वाला था। दो पत्नियों की मौत के बाद उसने बीते साल सावित्री से शादी की थी। सावित्री भी पहले दो बार शादी कर चुकी थी और दोनों पतियों से अलग हो चुकी थी। शादी के बाद सावित्री और उसकी 17 साल की बेटी जंगैया के साथ रहती थी। तीन महीने पहले उसने एक बेटे को जन्म दिया। दोनों कंस्ट्रक्शन वर्कर का काम करते थे और उनकी बेटी मानसिक रूप से कमजोर होने की वजह से घर में ही रहती थी। READ ALSO: व्यापमं घोटाले पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, रद्द होगा 500 मेडिकल छात्रों का एडमिशन

रात में किसी और महिला से बात करने का था शक
शनिवार को जंगैया काम से वापस आया तो शराब के नशे में था। वह आकर सो गया। रात में उसका फोन बजा जो कथित रूप से एक महिला ने किया था। वह एक किनारे गया और फोन पर बात करने लगा। जब वह वापस आया तो सावित्री ने उससे फोन करने वाली महिला के बारे में पूछा लेकिन उसने कोई संतोषजनक जवाब न देते हुए बात को टालने की कोशिश की। पति का किसी और से संबंध होने के शक सावित्री की उससे बहस होने लगी। वो करीब एक घंटे तक लड़ते रहे और बाद जंगैया सो गया। सावित्री का गुस्सा इतना भड़का था कि उसने सो रहे पति पर केरोसीन डालकर आग लगा दी। आग लगने पर वह चिल्लाने लगा और मदद के लिए बाहर भागा लेकिन गिर पड़ा। READ ALSO: PAN कार्ड की वजह से बढ़ सकती है आपकी भी मुश्किलें, ऑनलाइन चेक करें डीटेल

90 फीसदी जल चुके थे दोनों
पति को मरा समझकर सावित्री कमरे के अंदर गई और खुद को भी आग के हवाले कर लिया। जंगैया का छोटा भाई राजू पड़ोस में ही रहता है। वह उन दोनों को लेकर अस्पताल गया। दोनों का शरीर 90 फीसदी जल चुका था और इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। राजू की शिकायत के बाद पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। दोनों के शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए गए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Woman burns husband alive over a phone call kills herself.
Please Wait while comments are loading...