...तो राष्ट्रपति को बयान भी हिंदी में ही देने होंगे

By: BBC Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी
EPA
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

राष्ट्रपति और मंत्रियों समेत सभी गणमान्य व्यक्तियों को जल्द ही हिंदी में भाषण देना पड़ सकता है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, राष्ट्रपति मुखर्जी ने आधिकारिक भाषा मामलों की संसदीय समिति की 9वीं रिपोर्ट की अधिकांश सिफारिशें स्वीकार कर ली हैं.

इन सिफ़ारिशों को साल 2011 में भेजा गया था.

भाषा विवादः 'एक धोखे से दूसरे धोखे की कहानी'

हिंदी दूसरी भाषाओं के लिए ख़तरा बन रही है ?

समिति ने सिफ़ारिश की थी कि राष्ट्रपति और मंत्रियों समेत सभी गणमान्य व्यक्तियों (खासकर जो हिंदी बोल पढ़ सकते हैं) से भाषण और बयान केवल हिंदी में देने को कहा जा सकता है.

एक आधिकारिक आदेश के अनुसार, इस सिफारिश को स्वीकार कर लिया गया है.

हिंदी
Thinkstock
हिंदी

विमान में हिंदी पत्र पत्रिकाएं हों

राष्ट्रपति ने भारतीय विमानों में पहले हिंदी और उसके बाद अंग्रेज़ी में घोषणा किए जाने समेत कई अन्य सिफ़ारिशों को भी स्वीकार किया है.

राष्ट्रपति द्वारा स्वीकार की गई सिफ़ारिशों में ये भी कहा गया है कि विमान में पढ़ने लायक सामग्रियों में हिंदी अख़बार और पत्रिकाएं ज़रूर हों.

नागरिक उड्डयन मंत्रालय को इन सिफ़ारिशों को लागू करने के लिए कहा गया है.

इसके अलावा एयर इंडिया और पवन हंस हेलिकॉप्टर में अधिकतम हिंदी इस्तेमाल की सिफ़ारिश को भी स्वीकार किया गया है.

सिफ़ारिश में कहा गया है कि सिविल सेवा के अफ़सरों (आईएस) के प्रशिक्षण संस्थान में शत प्रतिशत दो भाषाओं वाली प्रशिक्षण सामग्री मुहैया कराई जाए.

हिंदी
Thinkstock
हिंदी

सीबीएसई और केंद्रीय विद्यालयों में हिंदी अनिवार्य

समिति ने मानव संसाधन और विकास मंत्रालय से कहा है कि वो हिंदी को पाठ्यक्रम का ज़रूरी हिस्सा बनाने के लिए गंभीर प्रयास करे और सबसे पहले सीबीएसई और केंद्रीय विद्यालय संगठन के विद्यालयों में दसवीं तक हिंदी को अनिवार्य विषय बनाया जाए.

आधिकारिक आदेश के अनुसार, "ये सिफ़ारिशें आधिकारिक रूप से स्वीकार कर ली गई हैं. केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ बातचीत कर इस पर एक नीति बनाए."

स्वीकार की गई एक अन्य सिफ़ारिश के अनुसार, गैर हिंदी क्षेत्रों में स्थित कॉलेजों-विश्वविद्यालयों में हिंदी में परीक्षा देने का विकल्प अवश्य दिया जाएं.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Will the President give the statement only in Hindi
Please Wait while comments are loading...