अगर आप यूज़ करते हैं WhatsApp तो एक बुरी खबर है, कंपनी पर लगा गंभीर आरोप

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। व्हाट्सएप ने अपने दुनिया भर के करोड़ों यूजर्स के लिए एंड-टू-एंड एनक्रिप्सन को बाई डिफाल्ट अपनाने के बावजूद इंस्टैंट मैसेजिंग एप की नीतियां इतनी कमजोर हैं कि वह अपने यूजर्स की निजता को नहीं बचा सकती है। हाल ही में आई एक रिपार्ट में ऐसा कहा गया है। रिपोर्ट में ये भी सामने आया कि प्राइवेट पॉलिसी के मामले में फेसबुक, ऐपल और गूगल, वॉट्सएप से बेहतर हैं और उनकी पॉलिसी पर ग्राहक भरोसा कर सकते हैं।

अगर आप यूज़ करते हैं WhatsApp तो एक बुरी खबर है, कंपनी पर लगा गंभीर आरोप

इलेक्ट्रॉनिक फ्रंटियर फाउंडेशन (ईएफएफ) ने अपनी 'Who Has Your Back' नाम वाली वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि व्हाट्सएप द्वारा डिफ़ॉल्ट रूप से एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन को अपनाने बावजूद, इसकी नीतियां सरकार की गोपनीयता की सुरक्षा के लिए बहुत कमजोर हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि यूजर्स के डाटा को सरकार के साथ शेयरिंग को लेकर व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी काफी कमजोर है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि व्हाट्सएप ने कभी इस बात को स्पष्ट किया नहीं किया कि कंपनी यूजर्स के डाटा को तीसरे पार्टी के साथ शेयर करती है या नहीं। साथ ही इस बात का भी जिक्र नहीं किया कि यूजर्स के डाटा का इस्तेमाल सर्विलांस के लिए होता है। इसके अलावा रिपोर्ट में ई-कॉमर्स साइट अमेजन की प्राइवेसी को लेकर भी सवाल खड़ा किया गया है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
WhatsApp's users are not being kept safe properly, according to a major new report.
Please Wait while comments are loading...