फेसबुक पर हुआ इश्क, भोपाल में प्रेमिका को मारने के बाद सीमेंट और पानी से बनाया उसका ममी

Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। बीते कई महीनों से लापता पश्चिम बंगाल की एक युवती का शव मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में उसे प्रेमी के घर में ही दफन मिला। शुरुआत में अंदाजा लगाया जा रहा था कि युवती अमेरिका में है लेकिन पश्चिम बंगाल पुलिस ने आखिरकार भोपाल के साकेत नगर में आकांक्षा शर्मा की लाश उसके प्रेमी उदयन दास के घर में बरामद कर ली। उदयन को शानो-शौकत और लग्जरी लाइफस्टाइल से जीने की आदत है। पूछताछ में खुलासा किया कि उसने आकांक्षा का गला घोंटकर उसकी हत्या की थी।

लाश को छुपाने के लिए डाला सीमेंट और पानी

लाश को छुपाने के लिए डाला सीमेंट और पानी

आरोपी उदयन ने बताया कि कई बार हुई झड़प की वजह से वह परेशान हो चुका था और आकांक्षा को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया था। उसने गला घोंटकर उसकी हत्या करने के बाद सीमेंट से भरे ट्रंक में लाश छुपा दी। बाद में उसके ऊपर एक प्लेटफॉर्म बना दिया। गुरुवार रात पुलिस ने घर की पहली मंजिल पर बने प्लेटफॉर्म को इलेक्ट्रॉनिक कटर और ड्रिल मशीन की मदद से काटा। प्लेटफॉर्म के खुलते ही एक लोहे के ट्रंक में आकांक्षा की लाश बरामद हो गई। हत्या के बाद आरोपी ने लाश को ट्रंक में रखकर उस पर काफी सीमेंट और पानी डाला था। पुलिस ने जब उसे बाहर निकाला तो पहचान कर पाना मुश्किल था। READ ALSO: नोएडा में 3700 करोड़ के ऑनलाइन फ्रॉड का भंडाफोड़

आखिर हत्या की असल वजह क्या है?

आखिर हत्या की असल वजह क्या है?

घटना की जांच के लिए पहुंची पुलिस को देखकर बड़ी संख्या में लोग आरोपी के घर के बाहर जमा हुए। आकांक्षा का परिवार पश्चिम बंगाल के बांकुरा का रहने वाला है। आकांक्षा के पिता सीनियर बैंक अधिकारी हैं। पुलिस ने बताया, 'वह लंबे समय से लापता थी। उसके पिता ने गुमशुदगी की एफआईआर दर्ज कराई थी। उसके परिवार को किसी ने जानकारी दी थी कि वह भोपाल में थी।' इस बात की जानकारी मिलने पर पुलिस ने जांच का रुख भोपाल की ओर किया। पुलिस ने आरोपी प्रेमी को हिरासत में ले लिया और उदयन के उस दावे की जांच की जा रही है कि उसने आकांक्षा से शादी की थी और आखिर हत्या के पीछे वजह क्या थी? READ ALSO: आधी रात को सुनसान सड़क पर जब दिल्ली पुलिस को मिली एक युवती

फेसबुक पर हुई थी दोनों की दोस्ती

फेसबुक पर हुई थी दोनों की दोस्ती

32 वर्षीय उदयन दास महंगी कारों और लग्जरी लाइफ का शौकीन है। उसके पास मर्सडीज और ऑडी कार भी हैं। उसकी मां रिटायर्ड डीएसपी हैं। वह भोपाल में अकेले रहता था। उदयन और आकांक्षा की दोस्ती सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर हुई थी। बाद में वह भोपाल आ गई और अपने परिजनों को बताया कि वह यहां नौकरी करती है। वह कथित तौर पर अमेरिका की ट्रिप पर गई और परिजनों को मैसेज करके बताया कि वह अमेरिका में ही बसना चाहती है। जुलाई 2016 के बाद से आकांक्षा की उसके परिवार से फोन पर कोई बातचीत नहीं हुई। वह हमेशा ऑनलाइन चैटिंग करती थी। परिजनों को इस पर शक हुआ और उसी के आधार पर उन्होंने पुलिस से शिकायत की। READ ALSO: सोशल मीडिया की मदद से पुलिस ने ढूंढ़ निकाली 3 साल की बच्ची

लाश की पहचान के लिए कराया जाएगा डीएनए टेस्ट

लाश की पहचान के लिए कराया जाएगा डीएनए टेस्ट

भोपाल के एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया, 'हम उदयन से पूछताछ कर रहे हैं। उसने दावा किया है कि सोशल मीडिया पर दोस्ती के बाद उन्होंने शादी भी कर ली थी। हम उसके दावे की जांच कर रहे हैं कि क्या वाकई शादी हुई है।' स्थानीय लोगों ने बताया कि घर में कुछ महीनों पहले तक एक लड़की दिखी थी और उन्हें देखकर लगता था कि दोनों लिव-इन-रिलेशनशिप में रहते हैं। लाश की पहचान के लिए डीएनए टेस्ट कराया जाएगा। एक पड़ोसी ने कहा, 'हमें कभी पता नहीं चला कि वे शादीशुदा हैं। हम उन्हें कभी कभी देखते हैं।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
West Bengal girl found buried in boyfriend's house in bhopal months after murder.
Please Wait while comments are loading...