चाइना बॉर्डर से सिर्फ 29 किमी दूर IAF का सबसे बड़ा एयरक्राफ्ट C-17

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश के मेचुका में इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के सबसे बड़े ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट सी-17 ग्‍लोबमास्‍टर ने लैंडिंग की है। अरुणाचल के जिस हिस्‍से में इस एयरक्राफ्ट को लैंड कराया गया वह जगह इंडो-चाइना बॉर्डर से सिर्फ 29 किमी की दूरी पर है। जाहिर सी बात है चीन के लिए यह खबर परेशान करने वाली है।

indian-airforce-mechuka-c-17.jpg

पढ़ें-लद्दाख से लेकर अरुणाचल तक चीन की चुनौती से निबटने की तैयारी

जून में हुई एयरस्ट्रिप ऑपरेशनल

इंडियन एयरफोर्स की ओर से एक बयान जारी कर कहा गया है कि 6200 फिट की ऊंचाई से ग्‍लोबमास्‍टर ने सिर्फ 4200 फीट के बेस पर लैंडिंग की है।

पढ़ें-विएना में मीटिंग से पहले भारत की एनएसजी एंट्री पर फिर अड़ा चीन

आईएएफ ने इस ट्रायल लैंडिंग करार दिया है। गौरतलब है कि अरुणाचल के मेचुका में इसी वर्ष जून में एयरस्ट्रिप को ऑपरेशनल किया गया है।

इससे पहले अगस्‍त में ही अरुणाचल के पासीघाट में एडवांस्‍ड फाइटर जेट सुखोई की लैंडिंग कराई गई थी। 

पढ़ें-10 सबसे शक्तिशाली हथियार, जो हैं हमारी सेनाओं की ढाल

62 में मेचुका था काफी अहम

वर्ष 1962 में जब भारत और चीन के बीच युद्ध हुआ था तो उस समय मेचुका ने एक अहम रणनीतिक रोल अदा किया था।मेचुका में लैंडिंग की खबर उस समय आई है जब आईएएफ अरुणाचल में अपना बेस मजबूत करने में लगी हुई है।

अगस्‍त में ऐलान किया गया था कि अरुणाचल में क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस की एक स्‍क्‍वाड्रन को तैयार किया जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Another worry for China as IAF's Biggest Transport aircraft C-17 Globemaster lands in Arunachal Pradesh.
Please Wait while comments are loading...