केंद्रीय मंत्री के बेटे ने सेना फंड में किया दान फिर भी हुई आलोचना, जानिए क्‍यों

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू के बेटे हर्ष मुप्‍पावरापू इन दिनों इंटरनेट पर गलत कारणोंं की वजह से काफी चर्चित हो रहे हैं। हर्ष आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के मशहूर वाहन डीलर हैं और उन्‍होंने हाल ही आर्मी फंड में दान किया। इसके बावजूद मीडिया में उनकी काफी आलोचना हो रही है।

केंद्रीय मंत्री के बेटे ने सेना फंड में किया दान फिर भी हुई आलोचना, जानिए क्‍यों

रिलायंस जियो बिना जानकारी के दूसरे देशों को बेच रहा है आपका पर्सनल डाटा !

यह है पूरा मामला

हर्ष ने दान करने के बाद बैंक रसीद की फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की। इसमें दान की रकम लिखी थी 1 हजार 116 रुपए। यह पूरा मामला 20 सितंबर को तब सामने आया जब उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर यह फोटो पोस्‍ट की।

सोशल मीडिया पर आलोचना

देखते ही देखते यह तस्‍वीर शेेयर होती गई। लोगों ने हर्ष की आलोचना करनी शुरू कर दी क्‍यों‍कि वह एक बड़े वाहन डीलर होने के साथ ही केंद्रीय मंत्री के बेटे हैं। इसके बावजूद उन्‍होंने आर्मी फंड में इतनी छोटी रकम दान की।

केंद्रीय मंत्री के बेटे ने सेना फंड में किया दान फिर भी हुई आलोचना, जानिए क्‍यों

पाकिस्‍तान का नाम सुनते ही भड़क उठे कपिल देव, जानिए क्‍यों

कुछ ऐसे हुए कटाक्ष का शिकार

कुछ लोगों ने इसी फोटो पर कटाक्ष करते हुए लिखा कि यह देशभक्ति और देश के लिए कुर्बान होने की बात करते हैं और इन्‍होंने यह बड़ा योगदान दिया है। वहीं एक अन्‍य व्‍यक्ति ने टिप्‍पणी करते हुए लिखा कि एक तरफ ये हैं 36 कंपनियों के मालिक और दूसरी तरफ हैं गुजरात के व्‍यवसायी महेश सावनी, जो कि उरी हमले में शहीीदों के बच्‍चों की पढ़ाई का खर्च उठा रहे हैं।

यह लिखा था हर्ष ने फेसबुक पर

हर्ष ने सेना फंड में दान की यह तस्‍वीर शेयर करने के एक दिन पहले ही फेसबुक पर लिखा था कि देश का हर एक व्‍‍यक्ति अगर 1 रुपए का भी दान सेना को करे तो यह काफी अहम साबित होगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
venkaiah naidu son harsh muppavarapu criticized for donating liitle amount to army fund.
Please Wait while comments are loading...