नोटबंदी: वैंकेया ने कांग्रेस से कहा - 2014 में जो होना था हो गया, 2019 में कितने अंतर से हारेंगे आप?

विमुद्रीकरण के मुद्दे पर सरकार का पक्ष रख रहे केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री वैंकेया नायडू ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बुधवार को संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन राज्य सभा में 500 और 1,000 के करेंसी नोटों के विमुद्रीकरण का मुद्दा छाया रहा। शाम करीब 6 बजे राज्यसभा अगले दिन बृहस्पतिवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।

इस दौरान विमुद्रीकरण के मुद्दे पर सरकार का पक्ष रख रहे केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री वैंकेया नायडू ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला और सदन में ही 2019 के चुनाव के लिए चुनौती दे डाली।

आईए आपको बताते हैं कि अपने पूरे वक्तव्य के दौरान नायडू ने क्या - क्या महत्वपूर्ण बातें कहीं जिससे कांग्रेस समेत अन्य विपक्षियों को विमुद्रीकरण के मुद्दे पर तीखी लगीं।

venkaiah naidu

मुंबई में काम करने वाले इस शख्स के खाते में आए लाखों रुपए, बैंक ने सीज किया खाता

  • सदन में चर्चा के दौरान वैंकेया नायडू ने कहा कि पूरा देश उत्सुकता पूर्वक देख रहा है कि क्या हो रहा है और कौन क्या कह रहा है। उनको किसी की ओर से किए गए कटाक्ष को सुनने में कोई रुचि नहीं है। वो ये सुनने में रुचि नहीं रखते हैं कि किसने लोगों को जेल में डाला, किसने अपना कार्यकल 5 से बढ़ाकर 6 साल किया और किसने संविधान संशोधन किया। बल्कि लोग यह जानना चाहते हैं कि कौन इस महायज्ञ (विमुद्रीकरण के फैसले) के पक्ष में है और कौन इसका विरोध कर रहा है।

कांग्रेस पर किया हमला

  • वैकेया ने कहा यहां जो मौका मिला उसमें कटाक्ष करने से कोई लाभ नहीं है। जो होना था वो 2014 में हो गया, जो होना होगा वो 2019 में होगा। 2019 तक इंतजार करिए, आप और कितने कम अंतर से हारना चाहते हैं ये लोग तय करेंगे।
  • उन्होंने कहा कि 2014 में हम मुख्यतः भ्रष्टाचार के मुद्दे पर लड़ा था। इस पर चर्चा हुई थी। दोनों ओर के लोगों ने अपनी-अपनी राय रखी। आपने (कांग्रेस) खुद का बचाव किया लेकिन लोग उससे खफा हो गए और हमें जनादेश दिया। वैंकेया ने पूछा कि ब्लैक मनी चलाना मूलभूत अधिकार क्या है? अलगाववादी,आतंकवादी, स्मगलरों का ये मूलभूत अधिकार है क्या?

क्लियर कट स्टैंड लेने के लिए चुना

अप्रैल 2017 से 500-1,000 के खत्म किए गए नोट रखना होगा जुर्म,मिलेगी सजा

  • वैंकेया ने कहा कि लोगों ने हमें क्लियर कट स्टैंड लेने के लिए चुना है। लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग बेसिक प्रिंसिपल का विरोध कर रहे हैं। कुछ लोग तानाशाह से तुलना कर रहे हैं।
  • उन्होंने कहा की कृप्या कांग्रेस दुविधा की बाहर से आएं। कहा कि वो अपनी लाइन तय करें। वैंकेया ने सदन में पूछा कि क्या वो ब्लैक मनी वालों के पक्ष में है? क्या वो ब्लैक मनी से समानांतर अर्थव्यवस्था के चलने के पक्षधर हैं? क्या आप स्मगलरों के पक्ष में हैं? या फिर आप की कड़े कदम के पक्ष में हैं? यह बिल्कुल स्पष्ट होना चाहिए।

व्यवहार में परिवर्तन चाहते हैं पीएम

नोट बैन: घर में थी बेटी की शादी, ज्यादा पैसे ना निकाल पाने से चिंतित किसान ने की आत्महत्या

  • वैंकैया ने कहा कि लंबे समय के लिए लाभ हासिल करने के लिए विमुद्रीकरण अस्थायी दिक्कत है। उन्होंने कहा कि मुद्दा ये है कि पीएम मोदी की ओर से लाए जा रहे इस बदलाव का कौन समर्थन कर रहा है और कौन विरोध। स्वच्छ भारत का जिक्र करते हुए वैंकेया ने कहा कि पीएम मोदी लोगों के व्यवहार में परिवर्तन लाना चाह रहे हैं।
  • वैंकेया ने कहा कि IMF सहित कई सारी संस्थाएं पीएम मोदी के इस कदम की सराहना कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यदि आपका धन वैध है तो वो अवैध घोषित नहीं किया जाएगा।
  •  कुछ लोगों का कहना है कि इस बारे में पहले सूचित करना था, आप क्या चाहते थे कि लोगों को बता दिया जाए ताकि वो अपने चीजों को ठिकाने लगा दें? 

अभियान में भी खरे हो दोस्त

  • वैंकेया ने कहा कि नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि देश केवल विचारों से ही नहीं वरन् किसी भी अभियान में खरा हो। तन से, मन से और धन से स्वच्छ होना चाहिए। गरीब लोग और भी गरीब होते जा रहे हैं, अमीर और अमीर होता जा रहा है। 
  • कहा कि मेरे दोस्त कह रहे हैं कि उद्योगपतियों को हमने मदद कि लेकिन मैं पूछना चाहता हूं कि क्या सारे उद्योगपति इस 2 साल 3 महीने मं पैदा हुए और बढ़े भी?

कोल स्कैम किसने किया?

  • वैंकया ने कहा कि घोर पूंजीवाद ने किसने बढ़ाया? CWG स्कैम, 2 G स्कैम किसने किया? कोल स्कैम हुआ? पहले खुद की आत्मा में झांक कर देखिए फिर हम पर उंगली उठाइए। नहीं तो यह आपको बहुत चोट पहुंचाएगी।
  • कहा कि पीएम का उद्देश्य है कि लोगों में व्यवहार में परिवर्तन आए। वो लोगों के मन में परिवर्तन आना चाहिए। साथ ही साथ तन से, मन से और धन से साफ तरीके से पूरा व्यहार चले यह पीएम का उद्देश्य है।
  • उन्होंने कहा कि देश पीएम मोदी के पीछे खड़ा है। यह भ्रष्टाचार के खिलाफ युद्ध है। इस सरकार ने काले धन पर एसआईटी गठन की। जिसे कांग्रेस ने नजरअंदाज कर दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Venkaiah Naidu said in rajya sabha DeMonestisation is a temporary pain which will provide long term gain
Please Wait while comments are loading...