महागठबंधन को लेकर आज दिल्ली में राहुल गांधी से मिल सकते हैं अखिलेश

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सपा में इस समय फैमिली ड्रामा जोरों पर हैं, घर के आंगन का झगड़ा अब सियासी चौराहे पर लोगों के सामने आ चुका है, लोग खुले आम कह रहे हैं कि पार्टी के अंदर दो गुट बन गए हैं लेकिन इस बीच सीएम अखिलेश यादव अपने राजनीतिक दांव-पेंच में भी जुटे हुए हैं। ये क्या बोल गए मुलायम, बेटा सही हो गया और पार्टी वाले गलत...

Uttar Pradesh Assembly Elections 2017: Akhilesh Yadav likely to meet Rahul Gandhi today for SP-Congress Alliance

यूपी की सत्ता में वापसी का ख्वाब देख रहे युवा सीएम आज कांग्रेस के साथ गठबंधन के मुद्दे पर पार्टी के युवराज राहुल गांधी से दिल्ली में मुलाकात कर सकते हैं। मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक गठबंधन को लेकर दोनों ही ओर से लोग तैयार हैं, इस गठबंधन के पीछे अखिलेश यादव की सांसद पत्नी डिंपल यादव की कोशिश और राहुल की बहन प्रियंका गांधी का दिमाग है, जिन्होंने बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए इस गठबंधन को काफी जरूरी बताया है।

कांग्रेस यूपी में 100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी!

सूत्रों की माने तो इस गठबंधन के तहत कांग्रेस यूपी में 100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, जबकि समाजवादी पार्टी 303 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। आपको बता दें कि अभी हाल ही में यूपी में कांग्रेस की मुख्यमंत्री पद की उम्‍मीदवार शीला दीक्षित ने कहा था कि वे उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन किए जाने के पक्ष में हैं। अगर समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस का गठबंधन होता है और मैं खुद मुख्‍यमंत्री पद की दावेदारी छोड़ने को तैयार हूं।

मुलायम सिंह का अब भी गठबंधन से इंकार

हालांकि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव अभी भी कह रहे हैं कि वो किसी से गठबंधन नहीं करने वाले हैं लेकिन उनके बेटे और यूपी के सीएम अखिलेश यादव पूरी लगन के साथ इस गठबंधन को कराने में जुटे हुए हैं, देखना दिलचस्प होगा कि आज अखिलेश और राहुल की मुलाकात अगर होती है तो उसके बाद क्या ऐलान होता है और मुलायम तब क्या कहते और करते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav is likely to meet Congress vice president Rahul Gandhi today (Tuesday) to discuss the strategy for the upcoming Uttar Pradesh Assembly elections 2017.
Please Wait while comments are loading...