मुस्लिम बच्चों को कुरान पढ़ा रही है 18 साल की हिंदू लड़की

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

आगरा। मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना..ये बात एक बार फिर से साबित हो गई आगरा में, जहां 12वीं क्लास में पढ़ने वाली एक हिंदू लड़की, इलाके के 35 छोटे मुस्लिम बच्चों को कुरान की शिक्षा देती है।

हिंदुओं के लिये 786 और मुसलमानों के लिये 'ऊं' है पवित्र जानिए कैसे

इस लड़की का नाम है पूजा कुशवाहा, जो कि स्वयं 12 वीं क्लास की छात्रा है और उसकी उम्र 18 बरस है। लेकिन स्कूल से आने के बाद वो शिक्षिका के रोल में आ जाती है और बच्चों को कुरान का पाठ पढ़ाती है। पूजा की पाठशाला हर शाम खुले आसमान के नीचे आगरा के संजय नगर स्थित एक मंदिर में लगती है। हिंदू होने के बावजूद पूजा को अरबी के एक-एक शब्द में महारथ हासिल है।

तलाक, तलाक, तलाक पर मुस्लिम बोर्ड ने कहा- इससे कत्ल नहीं होते

इस बारे में बात करते हुए पूजा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि जब वो बहुत छोटी थी तो उसके महल्ले में एक सरिता नाम की महिला रहती थीं, जो कि मुस्लिम पिता और हिंदू मां की बेटी थीं, उन्होंने इलाके में कुरान पढ़ना शुरू किया था। मेरी दिलचस्पी इस ग्रंथ में बढ़ गई और मैं भी उस क्लास का अहम हिस्सा बन गई, मेरे मां-बाप ने भी मुझे इस बात के लिए नहीं रोका, धीरे-धीरे मैं सरिता दीदी की क्लास की सबसे मेधावी छात्रा बन गई।

जानिए इस्लाम क्या कहता है 'योग' के बारे में?

लेकिन कुछ कारणों की वजह से अचानक सरिता दी को क्लास छोड़नी पड़ी लेकिन उन्होंने मुझसे आग्रह किया कि मैं इस स्कूल को बंद ना होने दूं और इसलिए मैं इस पाठशाला को आगे बढ़ा रही हूं। मेरी क्लास में पढ़ने वाली बच्चियों के अभिभावक को मेरे हिंदू होने पर कोई एतराज नहीं है।

Video: फिर से बोली इंडियन मॉडल..अर्शी बदनाम हुई अफरीदी तेरे लिए..

पूजा मुफ्त शिक्षा देती है, उसकी क्लास में ऐसे बच्चे आते हैं जिनके मां-बाप काफी गरीब है। पूजा की कोशिशों ने साबित कर दिया है कि शिक्षा का धर्म उसे बांटने में है, उसका मजहब ही लोगों को ज्ञान के मोती में पिरोना है।

अब मुस्लिम गर्ल्स को नहीं होगी प्राब्लम क्योंकि आने वाली है Hijarbie

पूजा की बड़ी बहन नंदिनी हैं, जो को गरीब बच्चों को गीता का पाठ पढ़ाती हैं। दोनों ही बच्चियों पर उनके मां-बाप को गर्व है। शहर केे इस्लामिक संगठन भी पूजा की तारीफ करते नहीं थकते हैं, उन्होंने कहा कि अगर कोई ग्रंथ को सही ढंग से जानता है,तो इससे बिल्कुल फर्क नहीं पड़ता कि वो किस मजहब का है और शिक्षा देना तो अपने आप में पाक काम है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
18-year-old hindu girl, Pooja Kushwaha, who is herself a normal class XII student by the day, turns into teacher at dusk giving away lessons to 35 Muslim kids in the area lessons in Quran.
Please Wait while comments are loading...