फरवरी में होंगे यूपी के चुनाव और अप्रैल में परीक्षाएं

इस दौरान निर्वाचन आयोग अधिकारी ने उत्तर प्रदेश दो अधिकारियों को फटकार भी लगाई।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। यूपी माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा का प्रोग्राम घोषित करना महंगा पड़ता दिख रहा है।

बिना राय मशविरे के परीक्षा की तारीखें घोषित करने पर चुनाव आयोग ने बोर्ड के अफसरों को कड़ी फटकार लगाई है।

UP:पांचवीं बेटी पैदा होने पर मां को सदमा, हार्ट अटैक से मौत

election commission

तलब कर सुनाई खरी खोटी

आज शनिवार को उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने यूपी के मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी वेंकटेश और माध्यमिक शिक्षा निदेशक अमरनाथ वर्मा को दिल्ली तालाब करके खूब खरी खोटी सुनाई है।

यूपी चुनाव जीतने के अलावा अखिलेश की है ये ख्वाहिश

सिन्हा ने साफ़ हिदायत दी की बोर्ड परीक्षा की नई तारीखें घोषित करने से पहले प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के साथ मंथन अवश्य कर लें।

उधर सूत्र बताते हैं कि आयोग ने अपरोक्ष रूप से बोर्ड को जटा दिया है कि वह फरवरी में चुनाव कराने का मन बना चुका है। लिहाज़ा बोर्ड की परीक्षाएं अप्रैल के आसपास कराई जाएँ।

UP: पत्नी ने सेक्स करने से किया इनकार, तो पति ने चाकू से काट लिए गुप्तांग

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Up assembly elections: Borad will be held in april and election would be in february
Please Wait while comments are loading...