यूपी विधानसभा चुनाव 2017: अखिलेश बनाम मुलायम: 'बापू सेहत के लिए तू तो हानिकारक है'

मुलायम सिंह यादव ने पार्टी के 325 उम्मीदवारों की सूची जारी की, जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कई चहेतों के टिकट काट दिए हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। एक बार फिर से सपा का पारिवारिक झगड़ा खुलकर लोगों के सामने आ गया है। जिस तरह से पिता मुलायम सिंह ने दागियों को टिकट बांटे हैं और बेटे अखिलेश के करीबियों का टिकट काटा है, उसने ये बात फिर साबित कर दी कि सपा सुप्रीमो अपने भाई शिवपाल यादव की तरह अखिलेश के कुछ कामों से खुश नहीं है।

'बापू सेहत के लिए तू तो हानिकारक है'..

पिछले कुछ वक्त से जिस तरह से लोगों के दिलों में अखिलेश यादव ने जगह बनाई है, उसने भले ही पार्टी के अंदर उनका कद बड़ा किया हो या ना किया हो लेकिन अपने चाचा और पिता दोनों से वो बहुत दूर नजर आ रहे हैं। सपा के इस फैमिली युद्द पर जमकर सोशल मीडिया पर बयान बाजी हो रही है, खूब तंज कसा जा रहा है। ट्विटर पर इन दोनों पिता-पुत्र यानी मुलायम-अखिलेश की एक तस्वीर इस कैप्शन के साथ- 'बापू सेहत के लिए तू तो हानिकारक है'..तेजी से वायरल हो रही है।

ऐसी बहुत सारी तस्वीरें सोशल मीडिया पर इस समय सुर्खियां बटोर रही हैं जिन्हें आप नीचे की तस्वीरों में देख सकते हैं...

लोग अखिलेश के समर्थन में और मुलायम के विरोध में

ट्विटर और फेसबुक हर जगह लोग अखिलेश के समर्थन में और मुलायम के विरोध में बाते लिख रहे हैं, अब इन दो विचारों से सपा को आने वाले विधानसभा चुनाव में फायदा होगा या नुकसान, ये तो अभी कहा नहीं जा सकता लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि सोशल मीडिया पर इन दिनों केवल और केवल अखिलेश और मुलायम ही छाए हुए हैं।

325 उम्मीदवारों की सूची जारी की

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को पार्टी के 325 उम्मीदवारों की सूची जारी की, जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कई चहेतों के टिकट काट दिए हैं। यही नहीं उन्होंने अखिलेश के धुरविरोधियों अतीक अहमद और रामपाल जैसे लोगों दागी लोगों को टिकट दिया है।

खास बातें

  • अखिलेश के करीबी मंत्री अरविंद सिंह गोप की जगह सपा में लंबे वक्त बाद वापसी करने वाले बेनी प्रसाद वर्मा के बेटे राकेश वर्मा बाराबंकी की रामनगर सीट से टिकट दिया गया है। 
  • अखिलेश के करीबी राम गोविंद चौधरी और पवन पांडेय का भी टिकट काट दिया गया है।

खास बातें

  • कानपुर कैंट से माफिया अतीक अहमद को टिकट दिया गया है। 
  • अखिलेश मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए गए नारद राय और राजकिशोर को भी टिकट दिया गया है।

'बापू सेहत के लिए तू तो हानिकारक है'..

सपा के इस फैमिली युद्द पर जमकर सोशल मीडिया पर बयान बाजी हो रही है, खूब तंज कसा जा रहा है। ट्विटर पर इन दोनों पिता-पुत्र यानी मुलायम-अखिलेश की एक तस्वीर इस कैप्शन के साथ- 'बापू सेहत के लिए तू तो हानिकारक है'..तेजी से वायरल हो रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The raging ticket war in the Samajwadi Party came out into the open on Wednesday when Mulayam Singh Yadav announced the candidates for 325 of the 403 Assembly seats in Uttar Pradesh, ignoring his son Akhilesh Yadav’s objections to certain tainted names.
Please Wait while comments are loading...