मिस्टर इंडिया की तरह बर्ताव कर रही हैं मायावती: उमा भारती

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती मि. इंडिया की तरह बर्ताव कर रही हैं, वो हकीकत को देख नहीं रही हैं और बिना सच्चाई को जाने ही नोटबंदी की आलोचना कर रही हैं।

uma

मायवती के गुरुवार को एक बार फिर से राज्यसभा में नोटबैन के लिए सरकार पर निशाना साधने के बाद उमा भारती ने मायावती को हवा-हवाई बात करने वाली नेता कहा है। उन्होंने कहा कि माया मेरे साथ आएं, तो पता चले कि देश की सच्चाई क्या है।

नोटबंदी के फैसले पर PM नरेंद्र मोदी पर भड़के दिग्गज बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा

उमा भारती ने कहा कि मायावती अपने कमरे में बैठी रहती हैं और वहीं से सारी बातें करती रहती हैं। नोटबैन के कारण गरीबों को हो रही परेशानी की मायावती की बात पर उमा भारती ने कहा कि कोई दुखी नहीं है, सब खुश हैं।

उमा भारती ने कहा कि मैं उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में पैदल घूमती हूं, इसलिए जमीनी हकीकत का मुझे पता है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि नोटबैन से लोग खुश हैं। मायावती अगर मेरे साथ कुछ दिन यात्रा करें तो उन्हें भी इस सच्चाई का पता चल जाएगा।

जिन्‍होंने घोटालों से जुटाया कालाधन, वो आज नोटबंदी का विरोध कर रहे हैं: अरुण जेटली

सिर्फ कालाधन रखने वाले परेशान हैं

उमा भारती ने कहा कि नोटबंदी से परेशान सिर्फ वो लोग हैं जिनके पास कालाधन है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद मायावती इस बात को लेकर परेशान हैं कि अब वो इलेक्शन कैसे लडेंगी।

डायलिसिस सेंटर ने नहीं लिए पुराने नोट, किडनी फेल होने से महिला की मौत

8 नवंबर को पीएम मोदी के 500 और 1000 को नोटों पर पाबंदी की घोषणा किए जाने के बाद से विपक्ष इसकी आलोचना कर रहा है। बसपा सुप्रीमो मायावती केंद्र सरकार के इस फैसले पर बेहद मुखर हैं। मायावती ने इसे आर्थिक आपातकाल कहा है।

मायावती ने गुरूवार को राज्यसभा में पीएम को चुनौती दी कि अगर वो नोटबैन पर असली सर्वे करना चाहते हैं तो देश में फिर से चुनाव कराया जाए। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के फैसले से देश के गरीब और मेहनतकश लोग भूखे सोने को मजबूर हैं।

नोटबंदी: यौन शोषण की पीड़ितों को नहीं मिल पा रही मुआवजे की रकम

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
uma bhatri says mayawati rules like mr India
Please Wait while comments are loading...