गिरफ्तार पाकिस्तानी नागरिकों ने ली थी मोस्ट वांटेड मसूद अजहर से ट्रेनिंग!

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

जम्मू| इंडियन आर्मी के मुताबिक उसने 21 सितंबर को उरी में दो पाकिस्तान नागरिकों को अरेस्ट किया है जो कि आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के लिए गाइड के रूप में काम करते थे। इनका काम था जम्मू में घुसपैठ करने वाले सीमा पार के हथियारबंद लोगों का मार्गदर्शन करना। 

भारत-पाक में युद्ध हुआ तो मैं भी बॉर्डर पर लड़ने जाऊंगा: अन्ना हजारे

सेना को शक है कि इन दोनों को मोस्ट वांटेड आतंकी मसूद अजहर ने खुद ट्रेनिंग दी थी और इन दोनों ने 18 आतंकियों को भारत में घुसपैठ कराया था और यही नहीं  उरी आतंकी हमले में मारे गये चारों हमलावरों को इन्होंने ही गाइड किया था।

उरी आतंकी हमले में सामने आया PAK का 'बिल्कुल नया' कनेक्शन, मिले दो अहम सबूत

दोनों से पूछताछ के दौरान जो जानकारी प्राप्त हुई है उसके मुताबिक दोनों खालियाना कलां के रहने वाले हैं और उनके नाम क्रमश: अहसान खुर्शीद उर्फ डीसी और फैसल हुसैन अवान है। इन दोनों ने दो साल पहले आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) को ज्वाइन किया था।

जानें ये 17 बातें जिस पर मोदी ने पाक को घेरा, दी चुनौती

आपको बता दें कि 18 सितंबर में हुए आतंकी हमले के पीछे जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) का ही हाथ बताया जा रहा है। इस हमले में 18 जवान शहीद और 30 घायल हुए हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indian Army and Border Security Force (BSF) on Saturday arrested two men from Pakistan occupied Kashmir (PoK) who had been acting as guides for infiltrating terror groups into India from the the Line of Control (LoC) in Uri sector.
Please Wait while comments are loading...