जानिए इस पुलिसवाले ने किस खास मकसद से रोक दिया राष्ट्रपति का काफिला

Subscribe to Oneindia Hindi

बेंगलुरू। पुलिस का काम हमेशा से मुश्किलभरा होता है, पुलिस के उपर ना सिर्फ लोगों की सुरक्षा करने का जिम्मा होता है बल्कि कानून व्यवस्था को भी कायम रखना होता है। लोगों की सुरक्षा के साथ-साथ पुलिस पर वीआईपी लोगों का भी दबाव होता है, इस दबाव के बीच वीआईपी माननीयों के खिलाफ जाकर जनसरोकार में कदम उठाना आसान नहीं होता है। लेकिन बेंगलुरू में एक ट्रेफिक पुलिस अधिकारी ने इन सबके बीच एक मिसाल कायम की है।

सोशल मीडिया पर हो रही है तारीफ

सोशल मीडिया पर हो रही है तारीफ

बेंगलुरू की सड़क पर एक एंबुलेंस को जाने देने के लिए ट्रैफिक पुलिस अधिकारी ने राष्ट्रपति के काफिले को रोक दिया। ट्रैफिक पुलिस में सब इंसपेक्टर एमएल निजालिंगप्पा को उनके इस बड़े कदम के लिए सोशल मीडिया पर लोग उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं। दरअसल बेंगलुरू के ट्रिनिटी सर्किल पर जब 17 जून को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का काफिला गुजर रहा था तो उस दौरान वहां से आने वाली एक एंबुलेंस के लिए निजालिंगप्पा ने राष्ट्रपति के काफिले को रोक दिया था।

आला अधिकारी कर रहे हैं तारीफ

आला अधिकारी कर रहे हैं तारीफ

एनएनआई रिपोर्ट की मानें तो निजालिंगप्पा के इस कदम के बाद बेंगलुरू पुलिस ने उन्हे सम्मानित करने का ऐलान किया है। जिस तरह से निजालिंगप्पा ने एंबुलेंस को जाने देने के लिए राष्ट्रपति का काफिला रोका उसे लेकर हर तरफ उनकी तारीफ हो रही है, जिसके बाद पुलिस विभाग ने उन्हें सम्मानित करने का फैसला लिया है। राष्ट्रपति बेंगलुरू में मेट्रो की ग्रीन लाइन का उद्घाटन करने के लिए जा रहे थे।

ग्रीन लाइन के उद्घाटन पर जा रहे राष्ट्रपति का काफिल रोका

ग्रीन लाइन के उद्घाटन पर जा रहे राष्ट्रपति का काफिल रोका

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का काफिला जिस वक्त राजभवन की ओर जा रहे थे तभी निजालिंगप्पा ने उनका काफिला रोक दिया था। दरअसल जैसे ही निजालिंगप्पा ने यह देखा कि राष्ट्रपति के काफिले की ओर एक एंबुलेंस जा रही है तो उन्होंने काफिले को रोक दिया, यह एंबुलेंस प्राइवेट अस्पताल की ओर जा रही थी, जोकि एचएल के करीब है। जिस वक्त एंबुलेंस भारी भीड़ में फंसी उसी वक्त निजालिंगप्पा ने अपने सहयोगियों से एंबुलेंस की मदद करने को कहा।

काफी तेजी से वायरल हो रहा वीडियो

काफी तेजी से वायरल हो रहा वीडियो

घटना के सामने आने के बाद पूर्वी जोन ट्रैफिक के डीएसपी अभय गोयल ने निजालिंगप्पा की ट्विटर पर तारीफ की है। उन्होंने निजालिंगप्पा के दिमाग की तारीफ की है। वहीं बेंगलुरू के कमिश्नर प्रवीन सूद ने भी ट्वीट करके निजालिंगप्पा की तारीफ की है। कई लोगों ने इस वाकये का वीडियो भी सोशल मीडिया पर साझा किया है। जिसके बाद उनका ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Traffic sub inspector stops the presidents convoy for the ambulance. His initiative was hailed on social media.
Please Wait while comments are loading...