कश्मीर मुद्दा सुलझाने के लिए बनेगी 'ट्रैक-2' टीम, जानिए क्या होगा इसमें

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में कर्फ्यू लगे 50 दिन पूरे हो चुके हैं। इस समस्या से निपटने के लिए और इससे जुड़े लोगों से बातचीत करने के लिए केन्द्र सरकार एक खास तरह की टीम का गठन करने जा रही है। इस नई टीम का नाम होगा 'ट्रैक-2' टीम।

kashmir unrest

सरकार की इस ट्रैक-2 टीम में कुछ प्रख्यात नागरिकों को शामिल किए जाने की योजना है। सूत्रों से एनडीटीवी को मिली जानकारी के अनुसार इस टीम में शामिल किए जाने के लिए कुछ प्रख्यात नागरिकों से बातचीत शुरू भी कर दी गई है।

पीएम मोदी और सीएम महबूबा के बीच मीटिंग की 10 खास बातें

इस टीम की घोषणा अगले हफ्ते की जा सकती है, जब सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल घाटी जाएगा। यह टीम उन अलगाववादियों से बातचीत करेगी, जो इस मामले से जुड़े हुए हैं।

दिल्ली में हुई मीटिंग

शनिवार सुबह ही जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने दिल्ली आकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की। इस मुलाकात के बात ही यह फैसला लिया गया है कि ट्रैक-2 टीम बनाई जाएगी।

इस मुलाकात में महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू और कश्मीर के सभी हिस्सेदारों से बातचीत की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए एक ऐसी संस्था की जरूरत है जो कश्मीर के प्रख्यात नागरिकों को बातचीत में शामिल कर सके।

महबूबा बोलीं कि जम्मू-कश्मीर में यह परेशानिया आज इसलिए आ रही हैं क्योंकि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की तरफ से उठाए गए अहम कदम पर रोक लगा दी गई है। उनका कहना था कि बाजपेयी के इस कदम के तहत हुर्रियत से इस मसले पर बातचीत किया जाना तय किया गया था।

अब तक हो चुकी हैं 70 मौतें

आपको बता दें कि आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद 8 जुलाई से कश्मीर हिंसा शुरू हुई है। इस हिंसा को 50 दिन पूरे हो चुके हैं। अब तक इस हिंसा में 70 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 11 हजार लोग जख्मी हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा था कि संविधान के दायरे में इस समस्या का स्थायी हल ढूंढ़ने की जरूरत है। मोदी का इशारा कश्मीर हिंसा को काबू में करने लिए बातचीत शुरू करना था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
'Track two' team will be formed for kashmir dialogue. This decision was taken in the meeting held in delhi between narendra modi and mehbooba mufti.
Please Wait while comments are loading...