आग की लपटों में घुसकर महिला अफसर ने मौत के मुंह से तीन लोगों को निकाला

Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई एक महिला अधिकारी की दिलेरी की वजह से आग की लपटों में घिर चुके तीन लोगों की जान बच गई। विरुगमबक्कम इलाके के एक मकान में लगी भयानक आग में घुसकर महिला अधिकारी ने गहरी नींद में सोए तीन लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला।

Read Also:वाराणसी: जय गुरुदेव के कार्यक्रम में भगदड़, 12 लोगों की मौत

fire

घर में लगी आग पड़ोसियों ने देखी

शुक्रवार की सुबह में विरुगमबक्कम के आवासीय इलाके के एक मकान में लगी आग को पड़ोसियों ने देखा। उन्होंने घर में सोए लोगों का जगाने की कोशिश की लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। आग की लपटों में घिरे घर के चारों तरफ धुआं ही धुआं था।

विरुगमबक्कम फायर स्टेशन को बुलाया

इसके बाद पड़ोसियों ने विरुगमबक्कम फायर स्टेशन को सूचना दी। सुबह में 6 बजकर 40 मिनट पर फायर स्टेशन को सूचना मिलने के बाद महिला अधिकारी आरिफा टीम के साथ मौके पर तुरंत पहुंचीं।

आरिफा ने इस बारे में बताया, 'घर के सामने की ग्रिल को तोड़कर हम अंदर घुसे। वहां फर्निचर और इलेक्ट्रॉनिक सामान धू-धू कर जल रहे थे। आग किचन की तरफ बढ़ रही थी जहां सिलेंडर था। हमने तुरंत जाकर सिलेंडर को वहां से पहले हटाया।'

घर के अंदर आग की लपटों में फंसे थे तीन लोग

जब घर में आग लगी थी तब अंदर 75 साल के पाउलो, उनकी 65 साल की पत्नी मैरी और 37 साल के वकील बेटे पॉल थे।

आरिफा ने बताया, 'किचन से सिलेंडर हटाने के बाद हम बेडरूम की तरफ भागे। वहां दोनों बुजर्ग गहरी नींद में सोए हुए थे और उनको कुछ भी मालूम नहीं था। हमें देखकर वे चौंक गए। दूसरे कमरे में उनका बेटा सोया था। तीनों को सकुशल बचाया गया।'

एक घंटे की मशक्कत के बाद फायर टीम आग बुझाने में सफल रही। पुलिस ने आशंका जताई है कि ड्राइंग रूम में शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी।

Read Also:मुंबई में हुआ खौफनाक सड़क हादसा, VIDEO देखकर सहम जाएंगे आप

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In virugambakkam, fire broke out in a house and three people trapped in there. A woman fire officer saved them from the burning home.
Please Wait while comments are loading...