देखिए, महिला उत्पीड़न के खिलाफ ऐसा वीडियो जो आपकी आंखें खोल देगा...

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। महिला सुरक्षा को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में हमेशा से सवाल उठाए जाते रहे हैं। चाहे देश की राजधानी दिल्ली हो या फिर साइबर सिटी बेंगलुरु, दोनों ही शहरों में महिला उत्पीड़न की घटनाएं सामने आई हैं। 'निर्भया' केस के बाद देश की राजधानी दिल्ली को 'रेप कैपिटल' तक कहा गया था, ऐसे ही इस बार नए साल के जश्न के दौरान जिस तरह से बेंगलुरु में महिलाओं से छेड़छाड़ की घटना हुई, वो बेहद चौंकाने वाला रहा। महिलाओं के शोषण को लेकर रोज कोई न कोई मामला सामने आता है, ये मामले पिछली घटनाओं से और भी ज्यादा डरावने होते हैं।

video देखिए, महिला उत्पीड़न के खिलाफ ऐसा वीडियो जो आपकी आंखें खोल देगा...

इन मामलों में चौंकाने वाली बात ये होती है कि महिलाओं को इसके लिए कसूरवार ठहराया जाता है। जैसे बेंगलुरु की घटना को ही देखें तो यहां महिलाओं से हुई छेड़छाड़ के लिए महिलाओं के ड्रेस को, पश्चिमी देशों की नकल को वजह बताया गया। ऐसे कई बयान सामने आए। क्या महिलाओं के छोटी ड्रेस पहनने, उनके देर रात तक पार्टी करने का मतलब ये थोड़ी न है कि महिलाओं से पुरुष जबरदस्ती कर सकते हैं। सवाल ये है कि जब महिलाएं शिक्षित हो रही हैं, नौकरी कर रही हैं तो उन महिलाओं को पुरुषों की तरह ही स्वतंत्रता भी चाहिए। उन्हें अपने पहनावे, बात करने, हंसने की स्वतंत्रता होनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें:- बेंगलुरु में नए साल पर हुई चौंकाने वाली घटना पर इस महिला ने दिया करारा जवाब

महिलाओं के लिए इसी आजादी को बयां करने के लिए 'द इजी गर्ल' नाम से 6 मिनट 43 सेकंड का वीडियो 'सीनेमोंक्ज' की ओर से सोशल मीडिया में पोस्ट किया गया है। इस वीडियो में दिखाया गया है कि किसी भी लड़की को आसान टारगेट नहीं समझना चाहिए। उन्हें प्रताड़ित नहीं किया जा सकता है। अगर वो आपके साथ पार्टी कर रही है, आपके साथ खा-पी रही है इसका मतलब ये नहीं है कि आपके उसके साथ कुछ भी कर सकते हैं। इस वीडियो में ये दर्शाने की कोशिश की गई है कि लड़कियों को भी पार्टी करने, दोस्तों के साथ मस्ती करने का हक है। उन्हें विश्वास होता है कि उनके साथ कुछ गलत नहीं होगा। ऐसा ही कुछ करीब 7 मिनट के वीडियो में दिखाया गया है। जहां एक लड़की अपने पुरुष दोस्तों के साथ पार्टी कर रही है। नाच रही है, खा पी रही है, इतना ही नहीं जब वो सुबह जगती है तो देखती है कि उसके दोस्त दूसरे कमरों में सो रहे हैं। अपने दोस्तों के इस रवैये से वो बेहद खुश होती है। इस वीडियो का आशय यही है कि लड़कियों को भी आजादी से जीने का हक है। ये बात पुरुषों को समझनी चाहिए। देखिए पूरा वीडियो..

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
This video shows Stop blaming women for the mistakes that men make.
Please Wait while comments are loading...