दो नाबालिगों ने 7 भारतीय दूतावासों की वेबसाइट्स को किया हैक, इंटरनेट पर लीक कर दिया डाटा

Subscribe to Oneindia Hindi

दिल्ली। यूरोप और अफ्रीका में भारत के सात दूतावासों की वेबसाइट्स और डाटाबेस को हैक कर नीदरलैंड के दो नाबालिग हैकर्स ने कुछ डाटा को ऑनलाइन लीक कर दिया।

हैकर्स का कहना है कि वह भारत को बताना चाहते है कि उनकी वेबसाइट्स की सुरक्षा इतनी लचर है कि छह साल का बच्चा भी उसे हैक कर सकता है।

Read Also: हैदराबाद की आईटी कंपनियों पर पाकिस्तानी हैकर्स ने किया साइबर स्ट्राइक

indian mission website hack

यूरोप और अफ्रीका में भारतीय दूतावासों की वेबसाइट्स हैक

कापुसत्की (@Kapustkiy) और कासीमिएर्ज (@Kasimierz_) नाम से ट्विटर पर मौजूद दो हैकर्स ने दावा किया है कि उन्होंने भारत के सात दूतावासों की वेबसाइट्स में सेंध लगाने में कामयाबी हासिल की है।

दक्षिण अफ्रीका, लीबिया, मलावी, माली, इटली, स्विटजरलैंड और रोमानिया के भारतीय दूतावासों की वेबसाइट्स को हैक करने के बाद दोनों हैकर्स ने इसकी जानकारी ट्विटर पर दी।

हैकर्स ने कुछ डाटा को किया लीक

हैकर्स ने डाटाबेस की कुछ जानकारियों को पेस्टबिन डॉट कॉम नाम की वेबसाइट पर ऑनलाइन लीक कर दिया। इसमें एडमिन, लॉग इन डिटेल्स, फोन नंबर समेत अन्य जानकारियां थीं। लीक किए हुए डाटा को कुछ देर बाद पेस्टबिन डॉट कॉम ने डिलीट कर दिया।

एक हैकर का कहना है कि वह भारतीय दूतावासों को यह बताना चाहते हैं कि उनकी सिक्योरिटी कितनी कमजोर है जिसे बेहतर बनाए जाने की जरूरत है। हैकर्स ने दावा किया है कि भारत के कई अन्य दूतावासों की वेबसाइट्स भी असुरक्षित हैं।

छह साल का बच्चा भी कर सकता है हैक

हैकर्स का कहना है कि भारतीय दूतावासों की वेबसाइट्स की एसक्यूएल सिक्योरिटी कमजोर है। इसे छह साल का बच्चा भी हैक कर सकता है। उनके पास और भी डाटा हैं लेकिन वह उसे सार्वजनिक नहीं करेंगे क्योंकि उनका मकसद भारतीय दूतावास के चेताना है।

किसी भी वेबसाइट में एसक्यूएल सिक्योरिटी कमजोर होने पर कोई भी हैकर उसके जरिए डाटाबेस में मॉलवेयर वाले कंटेंट डालकर वेबसाइट में एक्सेस पा लेता है। इसके बाद वेबसाइट पर पूरी तरह से हैकर का कब्जा हो जाता है।

हैकर का कहना है कि एसक्यूएल सिक्योरिटी को फिक्स करना कोई बड़ी बात नहीं है। इस बारे में भारतीय दूतावासों को सावधान रहना चाहिए।

हैकर ने बताया कि यह अजीब बात है भारत जैसे देश के दूतावासों की सिक्योरिटी इतनी कमजोर है। इस बारे में भारत के विदेश मंत्रालय की तरफ से अभी कोई बयान नहीं आया है।

Read Also: ब्‍लैकमेलर मांग रहा था न्‍यूड तस्‍वीरें और वीडियो, लड़की ने ऐसे दिया जवाब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Two teenagers from Netherlands has hacked the websites of seven Indian High Commission and leaked data on the internet.
Please Wait while comments are loading...