सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम को लिखा पत्र, कहा- टाटा के खिलाफ हो जांच

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर मांग की है कि टाटा ग्रुप के चेयरमैन के खिलाफ स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम से जांच कराई जाए। उन्होंने कहा है कि मनी लांड्रिग के मामले में टाटा के खिलाफ जांच की जाए।

Subramanian Swamy

पीएम मोदी को लिखे पत्र में स्वामी ने कहा है कि टाटा के खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की 1 20 B (षड़यंत्र), 403 (सार्वजनिक फंड का गबन), 405 (आपराधिक रूप से विश्वास का हनन), 415 (धोखा देने) के तहत मामला चलाया जा सकता है।

सायरस मिस्त्री को निकाले जाने के बाद टाटा ग्रुप को हुआ 44,000 करोड़ रुपए का नुकसान

साइरस का चिट्ठी का दिया है हवाला

उपरोक्त धाराओं का उल्लेख स्वामी ने टाटा के पूर्व अध्यक्ष साइरस मिस्त्री के उस पत्र के हवाले से कहा है कि जिसमें कंपनी में हो रही गड़बड़ियों की सूचना देने की बात कही गई थी लेकिन टाटा ने सभी आरोपों को खारिज कर दिया था।

सायरस मिस्त्री ने टाटा नैनो को लेकर किया बड़ा खुलासा, कई अन्य प्रोजक्ट पर भी उठाए सवाल

स्वामी ने पीएम मोदी से अपील की है कि केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI),प्रवर्तन निदेशालय, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) को मिलाकर एक SIT गठित कर जांच कराई जाए।

पत्र में स्वामी ने इस बात की उम्मीद जताई है कि पीएम मोदी इस पर जल्द ही कोई निर्णय लेंगे।

टाटा संस का बयान, सायरस के आरोप तथ्यों पर आधारित नहीं हैं

स्वामी ने पत्र के माध्यम से कहा है कि टाटा ने एयर इंडिया और विस्तारा के इंडियन पार्टनर होने के दौरान देश के कानून को तोड़ा है।

अभी भी रतन टाटा के लिए बड़ी परेशानी खड़ी कर सकते हैं मिस्त्री, जानिए कैसे

गौरतलब है कि बीते दिनों टाटा ग्रुप के अध्यक्ष पद से साइरस मिस्त्री को हटाने के साथ ही रतन टाटा को अंतरिम अध्यक्ष बना दिया गया है।

ये है स्वामी की चिट्ठी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Swamy asks PM to form multi-agency SIT to probe Tatas
Please Wait while comments are loading...