जन धन अकाउंट खोलने वाली कंपनी ने डीटेल चोरी करके सफेद किया काला धन, पुलिस ने जताई आशंका

Subscribe to Oneindia Hindi

कटक। ओडिशा के कटक में पुलिस ने जन धन खातों का इस्तेमाल कालाधन सफेद करने के लिए किए जाने की आशंका से छानबीन शुरू कर दी है। कटक सिटी पुलिस ने एक स्वयं सहायता समूह के सदस्यों के खातों में संदिग्ध ट्रांजेक्शन पाया है। पुलिस को आशंका है कि इन खातों का इस्तेमाल कालेधन को सफेद करने के लिए किया गया है। जिन खातों में जो पैसा जमा कराया है उसके असल खाताधारतों को इस बात की जानकारी भी नहीं है।

जन धन अकाउंट खोलने वाली कंपनी ने डीटेल चोरी करके सफेद किया काला धन

अंडरग्राउंड हो गया कंपनी का मालिक
कटक के जगतपुर पुलिस स्टेशन के IIC अनिल कुमरा बेउरिया ने कहा, 'हमें शक है कि यह पूरा मामला उस माइक्रो फाइनेंस कंपनी का किया धरा है जिसने स्वयं सहायता समूह तुलसी के सदस्यों के जनधन खाते खोले थे।' उन्होंने बताया कि 30 दिसंबर को मामला सामने आने के बाद से ही माइक्रो फाइनेंस कंपनी के प्रमुख सचिंद्र भोई का कोई पता नहीं है। पुलिस को आशंका है कि भोई ने ही इस पूरे फर्जीवाड़े की साजिश रची है।

पढ़ें: नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स विभाग ने किया 4663 करोड़ रुपये की अघोषित आय का खुलासा

चोरी की गई खातों की गुप्त जानकारी
पुलिस ने आशंका जताई है कि भोई ने कम से कम 13 जन धन खातों के सिक्योरिटी फीचर में सेंध लगाई और उनके पासवर्ड भी चोरी किए। इसके बाद उसने सभी खातों में 2 से 3 लाख रुपये तक जमा कराए। इसके बाद उसने इस पैसे को दूसरे खातों में किसी गुप्त उद्देश्य से ट्रांसफर कर दिया। सिटी पुलिस अब इस मामले को प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग के अधिकारियों तक पहुंचाने की योजना बना रही है।

यह भी पढ़ें: छात्रा को केबिन में बुलाकर HOD ने कर डाली गंदी हरकत

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Suspicious transactions in Jan Dhan accounts of self-help group members in Cuttack.
Please Wait while comments are loading...