सुषमा स्‍वराज ने की मदद, 2200 किलोमीटर दूर दुबई से वापस लौटा भारतीय

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने दुबई में फंसे एक ऐसे भारतीय के बारे में सोशल मीडिया साइट ट्वीटर पर लिखा था। साथ ही दुबई में भारतीय एबेंसी से इस बावत रिपोर्ट भी मांगी थी। आपको बताते चलें कि 48 वर्षीय जगन्‍नाथन सेल्‍वाराज ने घर लौटने के लिए वापसी का टिकट हासिल करने की खातिर दुबई में कोर्ट की कार्यवाही में भाग लेने के लिए दो साल के भीतर कुल मिलाकर लगभग 1,000 किलोमीटर की दूरी पैदल चलकर तय की थी।

dubai

इस मामले की जानकारी लेते हुए एम्‍स में अपनी किडनी का ट्रांसप्‍लाट करवाने के लिए भर्ती सुषमा स्‍वराज ने दुबई स्थित भारतीय दूतावास से रिपोर्ट मांगी थी। आज सुबह मंगलवार को सुषमा स्वराज ने एक और ट्वीट के जरिए एक खुशखबरी देते हुए बताया कि जगन्नाथन सेल्वराज घर लौट आया है, और इस वक्त अपने गांव पहुंच चुका है।

आपको बताते चलें कि 48 वर्षीय जगन्‍नाथन सेल्‍वाराज पिछले दो सालों में वो 1000 किलोमीटर का सफर अपने घर लौटने के लिए तय करा चुका था। इसके लिए वो कोर्ट में लड़ाई भी लड़ रहा था। पर भारत वापस आने को उसे टिकट नहीं मिला पा रहा था। त्रिरुचिरापल्‍ली से नौकरी की तलाश में वो दुबई गए थे।

दो साल में तय किया 1000 किलोमीटर का सफर, पर मजबूर भारतीय को नहीं मिल पाया वापस आने का टिकट

सेल्‍वाराज की कोर्ट में लड़ाई तब शुरु हुई थी जब उनकी मां की मौत होने जाने पर अंतिम संस्‍कार में हिस्‍सा लेने के लिए वापस जाने का मौका नहीं मिला था। उन्‍होंने बताया था कि इस दौरान वो कई महीनों तक एक पार्क में ही रहते थे। वो बीमार हो गए थे और वापस घर आना चाहते थे।

सेल्‍वाराज की मदद करने वाले एक सामाजिक कार्यकर्ता ने बताया कि उन्‍हें वापस घर जाने के लिए एक टिकट की जरूरत थी। सेल्‍वाराज के साथ पार्क में रहने वाले सभी लोग वापस अपने घर पहुंच चुके हैं। पर सेल्‍वाराज अभी तक घर नहीं जा सकें है क्‍योंकि उनके वापस जाने के लिए एक जहाज के टिकट का इंतजाम नहीं हो पाया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
sushma swaraj says we have brought him back to india and sent to his village
Please Wait while comments are loading...