सर्जिकल स्‍ट्राइक: पीएम मोदी ने वो कर दिखाया जो अटल भी नहीं कर पाए

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। वैसे तो पीएम मोदी की लोकप्रियता के बारे में किसी से कुछ छिपा नहीं है लेकिन, सर्जिकल स्‍ट्राइक के फैसले ने इस लोकप्रियता को एक अलग ही आयाम पर पहुंचा दिया। पीओके में घुसकर पाकिस्‍तान के आतंकी शिवरों को तबाह करने की मोदी के फैसले की पूरे देश में सराहना हो रही है।

PM Modi dares to go where ex-PM Atal didn't

कहा तो यहां तक जा रहा है कि पीएम मोदी ने वो कर दिखाया जो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भी नहीं कर पाए। जब‍कि अटल बिहारी ने अपने शासनकाल में पोखरण 2 का परिक्षण किया था।
जानिए क्‍या होता है सर्जिकल स्‍ट्राइक जिसे इंडियन आर्मी ने PoK में दिया अंजाम 

ससंद हमले के वक्‍त अटल बिहारी पर भी था दबाव

अंग्रेजी अखबार टाइम्‍स ऑफ इंडिया के मुताबिक साल 2001 में संसद पर हुए हमले के बाद तत्‍कालीन पीएम अटल बिहारी वाजपेयी पर भी दबाव था कि वो पाकिस्‍तान को उसकी सीमा में घुसकर जवाब दें, लेकिन उस वक्‍त उन्‍होंने एलओसी पार ना करने का फैसला किया।
बौखलाहट में बॉर्डर पर वॉर एक्‍सरसाइज कर रही है पाक सेना, नाम रखा है ''डेजर्ट वॉर गेम''  

लेकिन मोदी ने कर दिखाया

उरी आतंकी हमले के बाद ऐसा ही माहौल फिर देश में बना। जब बर्दाश्‍त की सीमा पार हो गई तो मोदी ने फैसला लिया और सेना 'सीमा पर हो गई'। हालांकि दुश्‍मन को घुसकर मारने के फैसले में कई दिक्‍कतें भी थीं लेकिन मोदी ने सारी तैयारी करवा ली।
जान लीजिए क्‍या होगा दुनिया का अंजाम अगर भारत-पाक में हुआ न्‍यूक्लियर वॉर? 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PM Narendra Modi was upbeat when a senior minister met him on Thursday morning. Reports that Army units had returned safely after hitting terror launch-pads in PoK clearly buoyed the PM, who was under attack for not delivering on his tough talk.
Please Wait while comments are loading...