डाटा लीक प्रकरण पर बोले नेवी चीफ- चिंता की कोई बात नहीं

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। स्कॉर्पीन सबमरीन के डाटा लीक प्रकरण पर भारतीय नौसेना के प्रमुख सुनील लांबा ने कहा कि इस मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है।  इस पर चिंता करने की कोई बात नहीं है।

scorpene submarine

डाटा लीक पर बोले पर्रिकर- चिंता की कोई बात नहीं

इस मामले पर पहली बार अपना बयान देते हुए नौसेना प्रमुख सुनील ने कहा कि 'किसी भी सूचना का लीक होना गंभीरता से देखा जाता है। हमने स्कॉर्पीन के डाटा लीक प्रकरण को भी काफी गंभीरता से जांचा है और फ्रेंच फर्म डीसीएनएस से  कहा गया है कि इस मामले में तुरंत जांच शुरू की जाए।'

स्कॉर्पीन डेटा लीक मामले में कोर्ट जाएगी डीसीएनएस कंपनी

सुनील ने कहा कि रक्षा मंत्रालय ने इस मामले की जांच करने के लिए उच्च स्तरीय कमेटी बैठाई है। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर हम तय करेंगे कि इस मामले के असर को कम करने के लिए क्या उपाय किए जाएं।

यह कोई चिंता का विषय नहीं

यह पूछे जाने पर कि लीक का यह मामला कितना चिंताजनक है इस पर सुनील ने जवाब दिया कि 'यह कोई चिंता का बहुत बड़ा विषय नहीं है। कमेटी विश्लेषण कर रही है कि कौन से डाटा लीक हुए हैं और इसके असर को कम करने के लिए क्या उपाय किए जा सकते है।'

व्हिसलब्लोअर ऑस्ट्रेलिया को देगा स्कॉर्पीन लीक डेटा की डिस्क

इस बात की संभावना जताई ज रही है कि कमेटी इस मामले पर अपनी रिपोर्ट 20 सितंबर से पहले रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को सौंप देगी।

ये है मामला

बता दें कि 6 उच्च श्रेणी के सबमरीनों की जानकारी लीक हो गई है। ये सबमरी भारतीय नौसेना फ्रेंच कंपनी के सहयोग से बनाया जा रहा है।

वर्ष 2011 में ही चोरी हो गए थे स्‍कॉर्पीन पनडुब्‍बी के डॉक्‍यूमेंट्स!

इन सबमरीनो की जानकारी के 22,000 पन्ने लीक हो गए हैं। इस मामले में फ्रेंच कंपनी डीसीएनस कोर्ट चली गई है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Submarine data leak being viewed 'very seriously': Navy chief Sunil Lanba.
Please Wait while comments are loading...