एनजीटी पैनल की रिपोर्ट, श्री श्री के कार्यक्रम से पर्यावरण को पहुंचा कभी न पूरा होने वाला नुकसान

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की तरफ से बनाई गई कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि श्री श्री रविशंकर की संस्था आॅर्ट आॅफ लिविंग की तरफ से आयोजित किए विश्व सांस्कृतिक कार्यक्रम से यमुना नदी किनारे जैव विविधता को बहुत नुकसान पहुंचा है।

art of living

कार्यक्रम के लिए जिस ​जैव विविधता को नुकसान पहुंचाया गया है। वो अब कभी वापस नहीं आ सकेगी। इस साल मार्च में विश्व सांस्कृतिक पर्व का आयोजन किया गया था जिसके लिए यमुना किनारे जमीन को समतल किया गया ​जिसमें बड़े पैमाने पर पर्यावरण नियमों का उल्लघंन भी किया गया था।

राजदीप सरदेसाई को आर्ट ऑफ लिविंग का जवाब

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस कार्यक्रम के लिए पूरी तरह से वहां की जैव विविधता को नष्ट कर दिया गया जोकि अब कभी वापस नहीं आ पाएगी।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक एनजीटी की तरफ से बनाई गई कमेटी ने 28 जुलाई को अपनी रिपोर्ट सौंप दी थी। सात सदस्यीय इस कमेटी के प्रमुख केंद्रीय जल स्रोत मंत्रालय के सचिव शशि शेखर ने कहा कि डीएनडी फ्लाई ओवर और बारपुला ड्रेन के बीच यमुना ​नदी के किनारे दायीं ओर का पूरा ​फ्लडप्लेन एरिया मुख्य कार्यक्रम के लिए प्रयोग किया गया था, जोकि थोड़ा बहुत नहीं बल्कि पूरी तरह से तबाह हो चुका है। पूरी जमीन को वहां पर समतल कर दिया गया।

कमेटी ने इस बात को भी उठाया कि जब वो इस मामले का अध्ययन करने 15 अप्रैल को साइट पर गए तो आर्ट आॅफ लिविंग के वॉलिंटियर्स ने जांच टीम के सदस्यों को अध्ययन करने से रोका था। इसके बाद पैनल के सदस्य 6 जून को दोबारा अध्ययन करने गए।

श्री श्री को मिला युवी का साथ, बोले गुरुजी You Rock

जब इस बाबत आर्ट आॅफ लिविंग से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने बयान जारी करते हुए कहा कि एनजीटी में हमने इस मामले में दूसरी कमेटी बनाए जाने का आवेदन किया है।

साथ ही कहा गया कि हमारे आवेदन पर सुनवाई से पहले इस रिपोर्ट पर विचार करने का कोई प्रश्न ही नहीं उठता है। सभी तथ्यों को ध्यान में रखा जाना चाहिए। पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के सारे आरोप सही नहीं है। यह पूरी तरह से पक्षपातपूर्ण हैं। इस मामले में अब अगली सुनवाई 28 सितंबर को होगी।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
expert panel to ngt: sri sri ravishankar event destroyed yamuna's biodiversity forever
Please Wait while comments are loading...