आखिर सस्ते खाने के पीछे की क्या है सियासत?

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश की जनता को खास सौगात देते हुए सस्ती थाली लेकर आ रहे हैं। जिससे लोगों को महज 10 रुपये में खाने की व्यवस्था की जाएगी।

सस्ते खाने के पीछे की क्या है हकीकत?

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता ने अम्मा कैंटीन खोलकर आम जनता को सस्ते खाने की सुविधा मुहैया कराई थी। जिसके बाद से कई और राज्यों की सरकार ने सस्ती कैंटीन की सुविधा शुरू की। लेकिन सवाल ये कि आखिर इस सस्ती कैंटीन के पीछे कहीं उनका एजेंडा वोटबैंक को मजबूत करना तो नहीं होता। लगता तो कुछ ऐसा ही है।

6 करोड़ भारतीय दिमागी रूप से हैं बीमार, आप भी कराइए टेस्‍ट

फिलहाल जयललिता की अम्मा कैंटीन और ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक की आहार योजना की तर्ज पर अब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी खाने की सस्ती थाली लेकर आने की तैयारी कर रहे हैं।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी गरीबों और आम जनता के लिए खास कैंटीन लेकर आ चुके हैं।

इन सरकारों ने की है सस्ते खाने की खास व्यवस्था

आम जनता के लिए सस्ते खाने की सुविधा धीरे-धीरे अलग-अलग राज्य अपनाते जा रहे हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गरीबों को सस्ते खाने की सौगात देने जा रहे हैं। फिलहाल तमिलनाडु, ओडिशा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली के बाद अब मध्य प्रदेश भी इस तरफ अग्रसर है।

जम्मू-कश्मीर में 300 छात्राओं को मिली स्कूटी की चाभी

शिवराज 10 रुपये में मुहैया कराएंगे भोजन

शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश में गरीब लोगों के लिए महज 10 रुपए में भरपेट खाने की थाली देने की एक योजना पर विचार कर रहे हैं। इस थाली में रोटी, सब्जी, दाल, चावल और अचार शामिल होगा। आइये नजर डालते हैं उन राज्यों पर जहां गरीबों के खास स्कीम के तहत सस्ती भोजन की व्यवस्था की गई है।

घूस मांगने का आरोप लगाने वाले कपिल शर्मा कर रहे हैं गैरकानूनी निर्माण?

अम्मा कैंटीन में खाने की खास व्यवस्था

आम जनता के बीच सस्ते खाने की थाली लेकर सबसे पहले तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता आई। उन्होंने बेहद कम दाम में हर व्यक्ति को खाना पहुंचाने के लिए अम्मा कैंटीन की शुरूआत की। जिसमें जनता महज 20 रुपये देकर तीन वक्त खाना खा सकती है। इस योजना के तहत नाश्ते में इडली एक रुपये और पोंगल राइस 5 रुपये मिलता है। दोपहर के खाने में सांभर चावल, लेमन राइस, करी पत्ता चावल, 5 रुपये में मिलते हैं। वहीं दही चावल खाने वाले 3 रुपये में इसका लुत्फ उठा सकते हैं। रात के खाने में दो रोटी और दाल महज 3 रुपये में मिल जाता है।

हरियाणा के पूर्व सीएम के खिलाफ ED ने दर्ज किया मामला

केजरीवाल की आम आदमी कैंटीन

जयललिता की अम्मा कैंटीन की तर्ज पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी कैंटीन की शुरूआत की। दिल्ली में गरीबों को सस्ती दरों पर खाने की सुविधा मुहैया कराने के लिए आम आदमी कैंटीन की शुरूआत की गई। जहां 5 रुपये में नाश्ता और 10 रुपये में खाना मिलेगा। इस कैंटीन का निर्धारित बजट 10 करोड़ है।

रोड शो में 10 मिनट तक फंसी रही एंबुलेंस, राहुल ने हटवाई भीड़

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक लाए आहार योजना

ओडिशा में आहार योजना चलाई जा रही है। 2015 में शुरू हुई इस योजना में गरीबों को सस्ते दाम पर खाना की सुविधा दी गई है। इस योजना के तहत रोजाना 60 हजार लोग खाते हैं। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने खास सौगात प्रदेश की जनता को दिया है।

फेसबुक का चैट फीचर हुआ डाउन, ट्विटर पर बता रहे लोग परेशानी

अखिलेश ने की मजदूरों के लिए भोजन की खास व्यवस्था

सस्ता खाना देने की मुहिम के तहत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मजदूरों के लिए खास भोजन की व्यवस्था की थी। इस स्कीम के तहत मजदूरों के लिए सिर्फ 10 रुपये में मजदूर दोपहर का खाना खा सकते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Special canteens starts by state government, for a common man.
Please Wait while comments are loading...