क्‍या बंद हो गई 2000 के नोट की छपाई? इस सवाल पर चुप क्‍यों हो गए जेटली

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बुधवार को राज्यसभा में भी वही मुद्दा उठा जो इन दिनों पूरे देश में उठ रहा है। समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने सवाल उठाते हुए पूछा कि क्या 2000 रुपए के नोटों की छपाई बंद हो गई है? अग्रवाल ने उपसभापति पी. जे. कुरियन से कहा कि जब संसद सत्र के दौरान सरकार अपने नीतिगत फैसलों को संसद को बताती है तो यह भी बताया जाना चाहिए कि क्या सरकार ने RBI को सरकार ने 2000 के नोटों की छपाई रोकने को कहा है?

राज्य सभा में उठा 2000 रुपए के नोट का मुद्दा, चुप रहे जेटली

कांग्रेस भी हुआ हमलावर

नरेश अग्रवाल की तरफ से मोदी सरकार पर वार के बाद कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अगर नोटबंदी का फैसला भारतीय रिजर्व बैंक का था, तो फिर उसकी घोषणा पीएम मोदी ने क्यों की? वह बोले आए दिन अखबारों में छप रहा है कि 1000 रुपए के सिक्के आ रहे हैं, कभी 200 तो कभी 500 के सिक्के आने की बातें होती हैं, इस पर सरकार को बताना चाहिए कि क्या 1000 रुपए के सिक्के आने वाले हैं?

ये भी पढ़ें- जानिए, 200 रुपए के आने वाले नोट से जुड़ी 5 खास बातें

चुप रहे जेटली

जहां एक ओर मोदी सरकार पर 2000 रुपए के नोट को लेकर सवालों की बौछार हो रही थी, वहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली सदन में चुपचाप बैठे दिखाई दिए। उपसभापति ने उसने पूछा भी कि क्या वह इन सवालों पर अपनी प्रतिक्रिया देना चाहेंगे? तो अरुण जेटली ने जवाब देने से इनकार कर दिया। मौके का फायदा उठाते हुए विपक्ष की ओर से जेडीयू सांसद शरद यादव ने कहा कि अगर सरकार 2000 के नोटों पर स्थिति स्पष्ट नहीं करती है तो लोग नोट लौटाने लगेंगे और अफवाहों का बाजार गर्म हो जाएगा। हालांकि, इसके बावजूद भी जेटली कुछ नहीं बोले।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
SP MP Naresh Agrawal raised issue of 2000 rupees notes in rajya sabha
Please Wait while comments are loading...