मुंबई: पिता को अंतिम विदाई देने के लिए इंद्राणी मुखर्जी एक दिन के लिए जेल से बाहर

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। रिश्तों के मकड़जाल में उलझेे शीना बोरा मर्डर केस की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को आज सीबीआई की विशेष अदालत ने एक दिन के लिए रिहा किया है। इंद्राणी को एक दिन की आजादी अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए दी गई है।

पिता के अंतिम संस्कार में शरीक होने की अनुमति

मालूम हो कि सीबीआइ कोर्ट ने इंद्राणी मुखर्जी की अंतरिम जमानत याचिका खारिज करते हुए उन्हें पुलिस की मौजूदगी में मुंबई में पिता के अंतिम संस्कार में शरीक होने की अनुमति दी है।

उपेंद्र कुमार बोरा की मौत 15 दिसंबर को हुई

गौरतलब है कि इंद्राणी के पिता उपेंद्र कुमार बोरा की मौत 15 दिसंबर को असम की राजधानी गुवाहाटी में हो गयी थी। हालांकि इंद्राणी मुखर्जी का बेटा मिखाइल नहीं चाहता कि उसकी मां उसके नाना के अंतिम संस्कार में शामिल होंं।

बेटा नहीं चाहता मां नाना के अंतिम संस्कार में आए

उसने कहा कि इंद्राणी के आने से बेकार में मीडिया वालों का जमावड़ा लग जाएगा जिसके कारण मेरे नाना के अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में कठिनाई होगी और फालतू में बात का बखेड़ा बनेगा लेकिन कोर्ट ने मिखाइल की बात को नजर अंदाज करते हुए इंद्राणी को 1 दिन के लिए जेल से बाहर आने की परमिशन दे दी।

शीना बोरा केस: पर्दे पर इंद्राणी मुखर्जी बनीं राखी सावंत, सामने आयेगा सच

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indrani Mukherjea, the prime suspect in Sheena Bora murder case, on Tuesday walked out of jail after a special CBI court allowed her to perform father’s last rites in Mumbai.
Please Wait while comments are loading...