सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की शशिकला की अपील, दिया तुरंत सरेंडर करने का आदेश

Subscribe to Oneindia Hindi
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को शशिकला की याचिका खारिज करते हुए सरेंडर के लिए ज्यादा वक्त देने से इनकार कर दिया है। आय से अधिक संपत्ति के मामले में सुप्रीम कोर्ट से चार साल की सजा पाने वाली शशिकला बुधवार को सरेंडर कर सकती हैं। कोर्ट का आदेश आने के बाद उनके आवास के बाहर समर्थकों की भीड़ जुटने लगी है। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को अपने आदेश में यह स्पष्ट किया था कि शशिकला और उनके दो रिश्तेदारों को सरेंडर करने के लिए ज्यादा वक्त नहीं दिया जाएगा। उन्हें तत्काल सरेंडर करना होगा। शशिकला ने कोर्ट से कहा था कि उन्हें कुछ काम हैं और इस वजह से सरेंडर करने में थोड़ा वक्त दिया जाना चाहिए।
बेंगलुरु जा सकती हैं शशिकला

बेंगलुरु जा सकती हैं शशिकला

शशिकला के कानूनी सलाहकार ने भी उन्हें कोर्ट में सरेंडर करने और उसके बाद रिव्यू पिटीशन दायर करने को कहा था। उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर ज्यादा समय मांगा था। हालांकि सरेंडर करने से पहले ऐसे डॉक्यूमेंट कोर्ट में पेश करने के बाद भी कोर्ट ने अपना रुख नहीं बदला। शशिकला बुधवार को फ्लाइट से बेंगलुरु जा सकती हैं। कोर्ट में सरेंडर करने के बाद उन्हें सेंट्रल जेल की उसी बैरक में रखा जा सकता है जहां जयललिता और बी.एस. येदियुरप्पा को रखा गया था। READ ALSO: ई. पलानीसामी बने AIADMK विधायक दल के नए नेता, पन्नीरसेल्वम को पार्टी से बाहर निकाला

कोर्ट ने तुरंत सरेंडर करने का आदेश दिया था

कोर्ट ने तुरंत सरेंडर करने का आदेश दिया था

शशिकला नटराजन ने सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर अपील करके ज्यादा समय मांगा था। शशिकला के सरेंडर को लेकर स्थिति बेंच के फैसले से ही स्पष्ट हो गई है। हालांकि कोर्ट ने फैसला सुनाते वक्त ही शशिकला को तुरंत सरेंडर करने और चार साल जेल की सजा काटने को कहा था। READ ALSO: सुप्रीम कोर्ट के फैसले का तमिलनाडु की राजनीति पर क्या होगा असर?

अब तक नहीं बताया क्या हैं निजी कारण?

अब तक नहीं बताया क्या हैं निजी कारण?

शशिकला सुप्रीम कोर्ट से यह भी अपील कर सकती हैं कि अगर उन्हें वक्त नहीं दिया गया तो सरेंडर की वजह से उनका काफी नुकसान होगा। हालांकि अब तक यह नहीं पता चला है कि वह निजी कारण क्या हैं जिनकी वजह से वह वक्त मांग रही हैं। शशिकला की ही तरह इस मामले में दोषी करार दिए गए इलावरसी और सुधाकरन ने भी अपील की थी। READ ALSO: सुप्रीम कोर्ट ने शशिकला को दी 4 साल जेल की सजा

कोर्ट ने सुनाया था ये फैसला

कोर्ट ने सुनाया था ये फैसला

शशिकला और अन्य दो दोषियों की अपील पर सुबह करीब साढ़े 10 बजे सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट की उसी बेंच में मामले की सुनवाई हुई जिसने मंगलवार को तीनों को दोषी ठहराते हुए सजा सुनाई थी। कोर्ट ने उन्हें चार-चार साल जेल और 10 करोड़ रुपये जुर्माना भी लगाया।


देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Supreme court refuses to grant more time to Sasikala to surrender in DA Case.
Please Wait while comments are loading...