सराहा ऐप, जिसने सोशल मीडिया की दुनिया में मचा दी है धूम

By: गौतम सचदेव
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सोशल मीडिया की दुनिया में अपने दोस्तों, करीबियों और जानने वालों को संदेश भेजने के लिए आपने कई चैटिंग ऐप आजमाए होंगे। फेसबुक मैसेंजर, व्हाट्सऐप, इंस्टाग्राम, स्नैपचैट और टेलीग्राम इनमें से प्रमुख हैं जो आम लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हैं, लेकिन सऊदी अरब के एक मैसेज एप्लिकेशन सराहा ने भारतीय बाजार और यूजर्स के बीच तहलका मचा दिया है। एक महीने पहले लॉन्च हुए इस ऐप को करीब 30 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया है और यह ऐप की दुनिया में नई सनसनी बनकर उभरा है।

क्या है इस ऐप की खूबियां ?

क्या है इस ऐप की खूबियां ?

मिड्ल ईस्ट के देशों में यह ऐप तो एक महीने पहले ही काफी प्रचलित हो चुका है लेकिन भारत में अब सोशल मीडिया यूजर्स के बीच इसकी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। आपको यह जानकर बेहद हैरानी होगी कि इसे सिर्फ तीन कर्मचारी ही चलाते हैं और यह इतनी बड़ी हिट हो चुकी है। पहली बार इस ऐप का नाम सुनकर आपके जेहन में यह बात जरूर आएगी कि आखिर इसका मतलब क्या है? सराहा एक अरबी शब्द है, जिसका मतलब ईमानदारी होता है,कमोबेश यह सराहना (प्रशंसा) शब्द से प्रेरित है और इस इस ऐप की लोक्रप्रियता का भी यही राज है।

इस 'ऑनेस्टी ऐप' के जरिए आप अपने प्रोफाइल से जुड़े किसी भी व्यक्ति को संदेश भेज सकते हैं। इस मजेदार 'फीडबैक ऐप' की सबसे रोचक बात यह है कि आपका मैसेज प्राप्त करने वाले को यह पता नहीं चलेगा कि ये मैसेज किसके पास से आया है। अभी इस ऐप में प्राप्त संदेश का जवाब भी नहीं दिया जा सकता और यही कारण है कि ये ऐप लोगों के बीच बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रहा है। आप अपने दोस्तों को जो चाहें संदेश भेज सकते हैं लेकिन वो आपका नाम नहीं जान पाएंगे। इसे एक ईमानदार ऐप भी कहा जा रहा है क्योंकि जिस दोस्त को किसी कारणवश आपने सामने या मुंह पर कुछ नहीं कह पाए हैं उन्हें आप इस संदेश भेजने वाले ऐप जरिए अपना नाम बिना उजागर किए कुछ भी कह सकते हैं।

यह ऐप स्नैपचैट की तरह लिंक शेयरिंग की सुविधा देने की वजह से काफी लोकप्रिय हुआ है, लॉन्च के बाद जुलाई महीने में यह ऐप लगभग दुनिया के 30 देशों में एप्पल की डाउनलोड किए गए ऐप की सूची में शीर्ष पर पहुंच गया। इस ऐप का कोई मिसयूज न कर पाए इसके लिए ब्लॉकिंग और फ़िल्टरिंग की भी व्यवस्था है जिसके जरिए यूजर्स इसके दुरुपयोग या किसी भी तरह की साइबर बुली से बच सकते हैं।

सराहा को कैसे करें डाउनलोड

सराहा को कैसे करें डाउनलोड

बाकी मैसेजिंग ऐप की तरह आप (यूजर्स) इसे भी गूगल प्ले स्टोर, ऐप स्टोर से अपने मोबाइल में डाउनलोड कर सकते हैं।आप चाहें तो इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर भी अपना अकाउंट बना सकते हैं और रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद अपने किसी भी दोस्त को फीडबैक भेज सकते हैं। इस फीडबैक ऐप के प्राप्त संदेश का आप जवाब तो नहीं दे सकते हैं, लेकिन इनके निर्माताओं का दावा है कि वो इसके विकल्प पर भी काम कर रहे हैं। इस ऐप को डाउनलोड करने के बाद आप जैसे ही अपनी प्रोफाइल सोशल मीडिया के किसी भी प्लेटफॉर्म पर शेयर करते हैं, आपको अनाम दोस्तों से फीडबैक मिलने शुरू हो जाएंगे।

क्या है इस ऐप के बनाने का मकसद

क्या है इस ऐप के बनाने का मकसद

ऐप की वेबसाइट के मुताबिक "इस ऐप का लक्ष्य आपकी ताकत और कमजोरियों को एक ईमानदार फीडबैक के जरिए मजबूती प्रदान करना है" , यह फीडबैक आपके साथ काम करने वाले साथी, आपके दोस्त या फिर आपके कुशल-क्षेम रखने वाले लोग दे सकते हैं। सऊदी अरब के वेब डेवलपर 29 वर्षीय जेन अल-अबीदीन तौफ़ीक ने इस ऐप को बनाया है। इस ऐप को बनाने के पीछे किसी भी कर्मचारी के द्वारा बॉस या वरिष्ठ को बिना झिझक अपनी राय देने के लिए था। उन्होंने इस ऐप के बारे में बताते हुए कहा कि इसे बनाने के पीछे मकसद है कि आप किसी व्यक्ति से वो सब कह सकें जो आप उनके सामने आकर नहीं कह सकते क्योंकि ऐसा हो सकता है कि जो आप कह रहे हैं उसे सुनना उन्हें अच्छा न लगे।

कोई भी भेज सकता है फीडबैक

कोई भी भेज सकता है फीडबैक

इस ऐप का मुख्य फोकस रचनात्मक फीडबैक (constructive feedback) है। आप अगर अपने दोस्तों को और अच्छा करते देखना चाहते हैं या उन्हें कोई ऐसा फीडबैक देना चाहते हैं जो आपने किसी कारणवश आम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नहीं दिया है तो यह ऐप आपकी गोपनीयता बरकरार रखते हुए आपका संदेश आपके दोस्त तक पहुंचा देगा। गूगल प्ले स्टोर पर इस ऐप को डाउनलोड करने वाले लोगों की संख्या 50 लाख से भी ऊपर पहुंच चुकी है।

इस ऐप के चर्चित होने की सबसे खास वजह यही है कि इसमें संदेश( फीडबैक) भेजने वाले की पहचान गुप्त रहेगी जब तक कि आप खुद इसकी अनुमति न दें।इस फीडबैक ऐप में न आपको न आपको किसी को फॉलो करना है और न ही किसी को दोस्ती का रिक्वेस्ट भेजना है। इस ऐप में आपके प्राप्त किए संदेश, भेज हुए संदेश और फेवरेट किए मैसेज सुरक्षित रहेंगे।

सराहा ऐप को लेकर नकारात्मक प्रतिक्रियाएं

सराहा ऐप को लेकर नकारात्मक प्रतिक्रियाएं

सोशल मीडिया की दुनिया में वायरल हुए इस ऐप पर लोगों की नकारात्मक प्रतिक्रियाएं भी खूब आ रही हैं। एप्पल प्ले स्टोर पर एक यूजर ने रिव्यु में लिखा कि क्या गारंटी है इसका इस्तेमाल साइबर बुली के लिए नहीं किया जाएगा। वहीं विदेश में अभिभावकों ने इस ऐप की सराहना की जिन्हें ऐसा लगता है कि इससे उन्हें फीडबैक आसानी से मिल जाते हैं। समय की पाबंदी और दिनभर की भाग-दौड़ में हम इतने सिमट चुके हैं कि जिंदगी का अहम समय मोबाइल पर ही बीतता है। वो फिर बिना किसी वजह के बार-बार मोबाइल को देखना हो या फिर बिना किसी संदेश के भी एक बार फेसबुक की फीड चेक करना हो। हमारे ऐसा करने की वजह से आज जीवन के बहुमूल्य पल ऐप और कीबोर्ड में सिमट गए हैं। बेहतर होगा अगर यूजर्स इस ऐप के जरिए ईमानदारी भरा फीडबैक देकर लोगों को सही रास्ते पर ला सकें।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sarahah : know important facts of world wide popular app
Please Wait while comments are loading...