सहारा डायरी में 100 नेताओं के नामों में छेड़छाड़ का आरोप

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। तथाकथित सहारा डायरी जोकि सुप्रीम कोर्ट में है, जिसमें तकरीबन 100 से अधिक नेताओं के नाम दर्ज हैं जिन्हें पैसे दिया गए हैं। लेकिन इस लिस्ट के साथ छेड़छाड़ की बात सामने आई है। लिस्ट में तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं के नाम शामिल हैं।

sahara


तमाम दलों के नाम 
जिन पार्टी के नेताओं का नाम इस डायरी में है उसमें भाजपा, कांग्रेस, जदयू, आरजेडी, एनसीपी, सपा, जेएमएम, जेवीएम, टीएमसी, बीजेडी, बीकेयू, शिवसेना और एलजेपी के नेता है। इस डायरी में 18 पार्टी के नेताओं के नाम हैं।

हाथ से लिखे पेज भी हैं डायरी में
सहारा डायरी के पेज में दो लिस्ट हैं जिसमे कुल 54 राजनेताओं के नाम दर्ज हैं, ये पन्ने प्रिंटेड हैं जबकि हाथ से लिखे पेज में 62 लोगों के नाम हैं, जोकि चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन इस मामले में कुछ अधिकारियों का दावा है कि इस लिस्ट में कुछ लोगों का नाम जानबूझकर जोड़ा गया है।

इसे भी पढ़े- जानिए, उन कागजों की सच्चाई जिनके आधार पर राहुल गांधी लगा रहे हैं पीएम मोदी पर आरोप

100 करोड़ का लेन-देन
हाथ से लिखे पेज पर 2010 की कथित एंट्री है, इसमें पांच पेज ऐसे भी हैं जिसमें पैसे लेने वालों के नाम भी दर्ज हैं। इसमें 2013 और 2014 के ट्रांजैक्शन का भी लेखा जोखा है। इस लिस्ट में तकरीबन 100 करोड़ रुपए से अधिक की एंट्री है।

प्रशांत भूषण ले गए कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ट वकील प्रशांत भूषण ने इस मामले में एक याचिका दायर की थी, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि आयकर विभाग ने आदित्य बिड़ला ग्रुप की कंपनियों और सहारा इंडिया की कंपनियों पर जो छापेमारी की है वह सिर्फ दिखावा है। जिसके बाद प्रशांत भूषण ने अपनी शिकायत तमाम संबंधित संस्थाओं को भेजी थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sahara files reaches in apex court which include more than 100 leaders name. Official claim that few names have been fabricated.
Please Wait while comments are loading...