राम किशन के परिवार से हाथापाई नहीं करनी चाहिए थी: रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है कि एक सैनिक का आत्महत्या करना दुखद है लेकिन इससे भी ज्यादा दुखद उसके परिवार को हिरासत में लेना है। इस मामले की वास्तव में जांच होनी चाहिए।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। वन रैंक वन पेंशन की मांग को लेकर बुधवार को दिल्ली में आत्महत्या करने वाले पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल की मौत के बाद सियासी पारा गर्म होता नजर आ रहा है।

Ram kishan Grewal

मामले पर रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है कि एक सैनिक का आत्महत्या करना दुखद है लेकिन इससे भी ज्यादा दुखद उसके परिवार को हिरासत में लेना है। इस मामले की वास्तव में जांच होनी चाहिए।

वाड्रा ने कहा कि मंच से सैनिकों के लिए केवल बड़ी-बड़ी बातें करने से कुछ नहीं होगा।

राम किशन ने बदल दी थी अपने गांव की तस्वीर, राष्ट्रपति ने किया था सम्मानित

सैनिकों के लिए सरकार को वास्तव में कुछ काम करना होगा।

उन्होंने कहा कि इस घटना में दो दुखद पहलू हैं। एक पूर्व सैनिक की जान जाने का और दूसरा जो कुछ कल दिल्ली में हुआ। कम से कम परिवार के साथ हाथापाई नहीं करनी चाहिए थी।

वहीं, रामकिशन के परिवार से मिलने के लिए सियासी दलों के नेताओं का तांता लगा हुआ है। गुरुवार को सुबह टीएमसी के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने हरियाणा के भिवानी पहुंचकर राम किशन के परिवार से मुलाकात की।

OROP के लाभार्थी थे खुदकुशी करने वाले भूतपूर्व सैनिक: रक्षा मंत्रालय

राम किशन के परिवार से मिलने के बाद टीएमसी नेता ने कहा कि अगर राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल परिवार से मिलना चाहते थे तो उन्हें मिलने देना चाहिए था।

इसके अलावा हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बेटे दीपेंद्र हुड्डा ने भी रामकिशन के घर पहुंचकर उनके परिवार से मुलाकात की। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वे आज हरियाणा जाकर रामकिशन के परिवार से मुलाकात करेंगे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
robert vadra said that saddened to learn of the suicide of ex-serviceman ram kishan grewal.
Please Wait while comments are loading...