शानदार हिंदी बोलने वाले रूस के भारत में राजदूत अलेक्‍जेंडर कादाकिन की ह्रदयाघात से हुई मौत

रूस के भारत में राजदूत अलेक्‍जेंडर कादाकिन की गुरुवार सुबह ह्रदयाघात के कारण मौत हो गई। वो 68 साल के थे।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। रूस के भारत में राजदूत अलेक्‍जेंडर कादाकिन की गुरुवार सुबह ह्रदयाघात के कारण मौत हो गई। वो 68 साल के थे। इस बात की जानकारी भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता विकास स्‍वरूप ने सोशल मीडिया साइट ट्वीटर पर दी। उन्‍होंने लिखा कि भारत ने अपना एक प्‍यार दोस्‍त खो दिया। अलेक्‍जेंडर कादाकिन की आत्‍मा को शांति मिले। अलेक्‍जेंडर कादाकिन ने वर्ष 2009 से भारत में रूस के राजदूत के रूप में तैनात थे। उन्‍होंने लिखा कि कादाकिन हमारे प्‍यारे दोस्‍त थे और भारत-रूस के रिश्‍तों को मजबूत करने में उन्‍होंने अहम भूमिका निभाई थी।

शानदार हिंदी बोलने वाले रूस के भारत में राजदूत अलेक्‍जेंडर कादाकिन की ह्रदयाघात से हुई मौत

अलेक्‍जेंडर कादाकिन के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि उनके चले जाने से हमें गहरा दुख पहुंचा है। वो एक शानदार राजनायिक थे और सच्‍चे अर्थों में भारत के दोस्‍त थे। वो शानदार हिंदी बोलते थे और उन्‍होंने भारत-रूस के रिश्‍तों को ऊंचे मुकाम तक पहुंचाया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Russian ambassador to India Alexander Kadakin died due to heart failure
Please Wait while comments are loading...