यूपी और बिहार ने मांगा अपना हिस्सा, सदन में हंगामा

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। राज्यसभा में समाजवादी पार्टी और जनता दल यूनाइटेड ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश और बिहार से भेदभाव किया जा रहा है। इस दौरान सपा के चलते बृहस्पतिवार को राज्यसभा तीन बार स्थगित करनी पड़ी। दरअसल सदन में मौजूद सपा के सांसद नारे लगाते हुए सदन के वेल तक पहुंच गए। उनका कहना था कि केंद्र सरकार यूपी को उसका हिस्सा नहीं दे रही है। उन्हीं का देखा देखी बिहार से जदयू के सांसद भी वेल में आ गए और कहा कि केंद्र बिहार में प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लागू नहीं की जा रही है।

पहले 15 मिनट के लिए स्थगित हुआ सदन

उप सभापति पीजे कुरियन ने सबसे पहले 15 मिनट के लिए सदन स्थगित किया उसके बाद भी हंगामा जारी रहा। उसके बाद सदन तीसरी बार दोपहर तक के लिए स्थगित कर दी गई। वहीं सपा से सांसद राम गोपाल यादव ने नियम 267 के तहत इस बात की नोटिस दी है कि बृहस्पतिवार की कार्यवाही को सस्पेंड कर उन आरोपों पर चर्चा कराई जाए सपा और जदयू द्वारा लगाए गए हैं। यही नोटिस शरद यादव ने भी बिहार के संबंध में दी है।

राज्यसभा में गूंजा कानून व्यवस्था का मुद्दा, मायावती बोली अति हो गयी है

नहीं मिला यूपी को उसका हिस्सा

लिस्टेड पेपर्स की सूची के टेबल पर आने के बाद रामगोपाल यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रमुख सचिव ने केंद्र सरकार को कई पत्र लिखे हैं कि प्रदेश के हिस्से के फंड रिलीज किए जाएं। राम गोपाल ने आरोप लगाया कि जिन फंड्स के अंतर्गत राशियां रिलीज नहीं गई हैं उनमें 8 लाख एससी-एसटी और ओबीसी छात्रों के 1,425 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप, ओला प्रभावित क्षेत्रों के नुकसान भरपाई के लिए 4,472 करोड़ रुपए शामिल है। इनमें से 2,780 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं जिनमें से सिर्फ 219 करोड़ रुपए ही अभी तक रिलीज हो पाए हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत आवंटित राशि की आधी धनराशि भी रिलीज नहीं हो पाई है जिसके चलते परियोजनाएं लटकी हुई हैं।

राज्यसभा में निकली नौकरी, पढ़ें पूरा विवरण यहां

वहीं चलने दिया जाएगा सदन

रामगोपाल ने कहा कि सर्व शिक्षा अभियान, उच्च शिक्षा और अल्पसंख्यक तथा पिछड़ों के लिए स्कॉलरशिप की धनराशि भी रिलीज नहीं हुई है। उन्होंने यह भी कहा कि यदि केंद्र सरकार द्वारा इस बात का आश्वासन नहीं दिया जाता कि रुके हुए धन 2-3 दिन में रिलीज कर दिए जाएंगे तो सदन नहीं चलने दिया जाएगा।

बिहार ने भी लगाया भेदभाव का आरोप

वहीं बिहार से जदयू सांसद शरद यादव ने भी भेदभाव के आरोप लगाए। जदयू से सांसद अली अनवर अंसारी ने कहा कि 14 जिलों के 2,300 बाढ़ ग्रसित हैं लेकिन प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना वहां अभी तक कार्यान्वित नहीं की गई है। कांग्रेस से प्रमोद तिवारी ने तमिलनाडु के सलेम ट्रेन से भारतीय रिजर्व बैंक के 5 करोड़ रुपए चोरी होने का मुद्दा उठाया। उन्होंने पूछा कि बिना सुरक्षा के किस तरह से कैश ट्रांसफर किया जा हा था। उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें आरबीआई के अधिकारी भी शामिल हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rajya Sabha adjourns thrice as SP protests discrimination against UP.
Please Wait while comments are loading...