करेंसी के मुद्दे पर राहुल ने ट्वीट कर कहा- 'सबको परेशान कर बहुत अच्छा किया मिस्टर मोदी '

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर 500 और 1,000 के नोट के अवैध घोषित किए जाने पर मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आ रही है। एक ओर जहां कई नेता इसे सही फैसला बता रहे हैं वहीं कुछ इसे जनविरोधी बता रहे हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से 500 और 1,000 रुपए के करेंसी नोट्स को अवैध घोषित किए जाने को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उन पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि कैसे 2,000 रुपए का नोट कालेधन पर लगाम लगाएगा?

केंद्र की मोदी सरकार को ताना मारने वाले अंदाज में राहुल ने कहा कि 'बहुत अच्छा मिस्टर मोदी।'

राहुल ने कहा कि 'असली गुनाहगार' जिन्होंने कालाधन इकट्ठा किया हुआ है वो अब भी 'मजबूती से बैठे हैं', जबकि किसानों, छोटे दुकानदारों और गृहणियों का जीवन 'अराजकता की ओर ढकेल' दिया गया है।

rahul gandhi

बहुत अच्छे मिस्टर मोदी!

बकौल राहुल 'मोदी ने फिर से यह दिखाया है कि किस तरह से लोगों के बारे में सोचते हैं। किसान, छोटे दुकानदार और गृहणियों के जीवन मे उथल-पुथल मच गई है। बहुत अच्छे मिस्टर मोदी।'

बिना बैंक खाते के कैसे बदलें 500-1000 रुपए के नोट

ट्विटर पर सवाल पूछते हुए राहुल ने कहा कि 'प्रधानमंत्री से एक सवाल है कि किस तरह से 1,000 रुपए की नोट की जगह 2,000 रुपए के नोट लाकर काले धन पर रोक लगाई जाएगी?'

स्पष्ट करें फैसेल के साथ हैं या नहीं!

वहीं राहुल की इस टिप्पणी पर केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि वो नेता जो ऐसे निर्णय का विरोध कर रहे हैं या अव्यवस्था पैदा कर रहे हैं, उन्हें यह स्पष्ट करना चाहिए कि वो फैसले के साथ हैं या नही।

नोट बैन पर पीएम मोदी को आडवाणी ने दी बधाई, बताया अहम फैसला

सिंह ने कहा कि ये वही लोग हैं जो कहते हैं कि सरकार कुछ नहीं कर रही है और जब हम कुछ करते हैं तो ये परेशान हो जाते हैं।

उन्होंने कहा कि वो नेता जो इस फैसले का विरोध कर रहें हैं वो यह स्पष्ट करें कि क्या वो मोदी सरकार की ओर से भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई को समर्थन दे रहे हैं या नहीं।

हमारी सरकार गरीबों के लिए प्रतिबद्ध

इसी मसले पर केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि सरकार गरीबों के लिए प्रतिबद्ध है। यह हमारे लिए सिर्फ नारा नहीं है।

500-2000 रुपए के नए नोट को कांग्रेस ने बताया अबूझ पहेली

प्रधान ने कहा कि इस बात के निर्देश दिए गए हैं कि 500 या 1000 रुपए के नोट पेट्रोल पम्पों और गैस स्टेशनों पर स्वीकार किए जाएंगे इसलिए लोगों को 11 नवंबर तक दिक्कत नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि यह निर्देश भी दिए गए हैं कि जो भी इसका उल्लंघन करेगा उसे सजा दी जाएगी।

गौरतलब है कि मंगलवार रात (8 अक्टूबर) राष्ट्र के नाम दिए संदेश में पीएम मोदी ने 500 और 1,000 की करेंसी नोट को बैन करने की घोषणा की थी।

पिंक रंग में 2000 रुपये का नोट, ये पिंक इफेक्ट है

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rahul Gandhi targeted PM Modi for declaring Rs 500 and Rs 1,000 currency notes invalid
Please Wait while comments are loading...