पीएम की कथनी और करनी में फर्क, जहां जाते हैं एक वायदा कर आते हैं- राहुल गांधी

Subscribe to Oneindia Hindi

अल्मोड़ा। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तराखंड में रैली के दौरान एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्रीजी हर रोज जहां जाते हैं लोगों से वायदे करते हैं लेकिन उन वायदों को वह कभी पूरा नहीं कर पाते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने लोगों को गुमराह करने का काम किया है, उनकी कथनी और करनी में बहुत फर्क है।

rahul

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री का नारा है गरीबों से खीचों और अमीरों को सींचो। उन्होंने कहा कि कालाधन के नाम पर पीएम ने लोगों को बैंकों की लाइन में लाकर खड़ा कर दिया और इससे देशभर के लोगों को तकलीफ हुई। गरीबों का पैसा लेकर बैंकों में जमा किया और उसी के बल पर अमीरों को पैसा दिया। राहुल ने कहा कि चंद उद्योगपतियों को पैसा देने के लिए प्रधानमंत्री ने लोगों को बैंक की लाइन में लगाया बैंक उद्योगपतियों को पैसा नहीं दे सकता है, इसीलिए लोगों को बैंक की लाइन में खड़ा कर दिया।

नोटबंदी की आलोचना करते हुए राहुल ने कहा कि 8 नवंबर को खड़े होते हैं और हंसते हुए कहते है कि आपकी इमानदार कमाई का जो पैसा है, 500 व 1000 रुपए का नोट जिसे किसान, हमारी माताओं बचाकर रखा है उसे बंद करता हूं। राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी ने उद्योगपतियों का पैसा माफ करने के लिए लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया। उस लाइन में हिंदुस्तान के मजदूर, किसान और युवा लाइन में खड़ा था।आप बताइए उन लाइनों में आपको एक भी अमीर, सूट-बूट वाला, एक भी भ्रस्ट आदमी दिखा।

इसे भी पढ़ें- मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को संगठित लूट बताया, जवाब तो मिलना ही था- रविशंकर प्रसाद

कालाधन पर पलटवार करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मोदीजी जहां जाते हैं नए वायदे करते हैं, लेकिन उन्हें पूरा नहीं करते हैं। मोदीजी की सरकार को स्विस बैंक ने खाताधारकों की लिस्ट भेजी है, जिन चोरों के नाम स्विस सरकार ने भेजे है वह नाम आप लोकसभा व राज्यसभा में क्यों नहीं रखते, पूरा हिंदुस्तान जानना चाहता है कि कौन हैं वो चोर जिन्होंने देश को लूटा है। लेकिन मोदीजी ने देश की गरीबों को लाइन में खड़ा कर दिया

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rahul Gandhi hits on PM Modi says he never fulfil his promise. He says there huge difference between saying and dont of PM.
Please Wait while comments are loading...