राहुल द्रविड़ ने ठुकराई बेंगलुरु विश्वविद्यालय की मानद उपाधि, कहा खुद अनुसंधान करके लेंगे डिग्री

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बेंगलुरु। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने बेंगलुरु विश्वविद्यालय की तरफ से दी जा रही मानद उपाधि को उन्होंने ठुकरा दिया है। राहुल द्रविड़ ने कहा है कि वह खुद अनुसंधान करके यह डिग्री हासिल करना चाहते हैं। उन्होंने कहा है कि वह खेल के क्षेत्र में अनुसंधान करेंगे। आपको बता दें कि 27 जनवरी को बेंगलुरु विश्वविद्यालय का 52वां दीक्षांत समारोह है। अपने इसी समारोह में बेंगलुरु विश्वविद्यालय ने यह डॉक्टरेट की डिग्री राहुल द्रविड़ को देने की पेशकश की थी, लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार करने से इनकार कर दिया।

rahul dravid राहुल द्रविड़ ने ठुकराई बेंगलुरु विश्वविद्यालय की मानद उपाधि, कहा खुद अनुसंधान करके लेंगे डिग्री
 ये भी पढ़ें- देश के सर्वोच्च पद्म पुरस्कार से जुड़ी वेबसाइट की हालत खस्ता, जानकारी के लिए करना पड़ा इंतजार

बेंगलुरु विश्वविद्यालय के कुलपति बी थिमे गौड़ा ने कहा है कि राहुल द्रविड़ को जब यह मानद उपाधि दिए जाने के लिए बेंगलुरु विश्वविद्यालय द्ववारा चुना गया तो उन्होंने विश्वविद्यालय का शुक्रिया अदा करते हुए इसे लेने से मना कर दिया। साथ ही राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह इस डिग्री को किसी तरह का शिक्षण कार्य पूरा करके हासिल करना चाहते हैं। हर कोई राहुल द्रविड़ की इस सोच की सराहना कर रहा है।

राहुल द्रविड़ ने ठुकराई बेंगलुरु विश्वविद्यालय की मानद उपाधि

ये भी पढ़ें- तमिलनाडु के कारोबारियों का ऐलान, 1 मार्च से राज्य में नहीं बिकेगी पेप्सी और कोक

गौरतलब है कि इससे पहले राहुल द्रविड़ ने 2014 में भी गुलबर्गा विश्वविद्यालय के 32वें दीक्षांत समारोह में भाग नहीं लिया था। उस समय उन्हें 12 लोगों ने मानद उपाधि के लिए चुना था। आपको बता दें कि राहुल द्रविड़ ने 2012 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। मौजूदा समय में राहुल द्रविड़ इंडिया 'ए' और अंडर-19 टीम के कोच के रूप में युवा क्रिकेटरों की प्रतिभा को निखारने का काम कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह ने दिया हलफनामा, बताई कुल 47 लाख की संपत्ति

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rahul Dravid declines Bengaluru University honorary doctorate degree
Please Wait while comments are loading...