पंजाब चुनाव में हर बूथ पर नजर रखने के लिए AAP ने किराए पर लिए 14,200 खुुफिया कैमरे

पोलिंग बूथ पर खुुफिया कैमरों के साथ कार्यकर्ताओं की तैनाती के पीछे का मकसद दूसरी पार्टी के उन लोगों को पकड़ना है जो वोट के लिए कैश और शराब बांटते हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। आम आदमी पार्टी को पंजाब चुनाव में गड़बड़ी की आशंका है। इसके लिए पार्टी ने गड़बड़ी पकड़ने के लिए करीब 14 हजार 200 खुफिया कैमरे किराए पर लिए हैं। राज्‍य के हर पोलिंग बूथ पर इन खुफिया कैमरों के साथ कार्यकर्ता तैनात रहेंगे। इसके लिए 16 हजार पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों को ट्रेनिंग दी गई है। आपको बता दें कि पंजाब में मतदान 4 फरवरी को है और एक दिन पहले यानी 3 तारीख से ही पार्टी के कार्यकर्ता और समर्थक खुफिया कैमरों के साथ काम पर लग जाएंगे।

पंजाब चुनाव में हर बूथ पर नजर रखने के लिए AAP ने किराए पर लिए 14,200 खूफिया कैमरे

पोलिंग बूथ पर खुफिया कैमरों के साथ कार्यकर्ताओं की तैनाती के पीछे का मकसद दूसरी पार्टी के उन लोगों को पकड़ना है जो वोट के लिए कैश और शराब बांटते हैं। चुनाव के दौरान अकसर ऐसी खबरें आती रहती हैं कि मतदान के आखिरी वक्‍त में वोटरों के बीच गुप्‍त तरीके से बड़े पैमाने पर पैसे बांटे जाते हैं और लोगों को शराब पिलाई जाती है। सिर्फ पंजाब में ही नहीं आम आदमी पार्टी ने गोवा चुनाव के मद्देनजर भी 1000 कैमरे किराए पर लिए हैं। इससे पहले आम आदमी पार्टी ने दिल्‍ली चुनाव में भी खुफिया कैमरों का इस्‍तमाल किया था।इसे भी पढ़ें- शराब पीकर जनसभा में पहुंचे भगवंत मान, 5 मिनट तक देते रहे फ्लाइंग KISS

पंजाब और गोवा में आज है चुनाव प्रचार का आखिरी दिन

गोवा और पंजाब में चुनाव प्रचार का गुरुवार को अंतिम दिन है। चुनाव के अंतिम दिन सभी राजनीतिक दल प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंकने जा रहे हैं। पंजाब और गोवा में 4 फरवरी को चुनाव है। नियम के मुताबिक 48 घंटे पहले गुरुवार को प्रचार अभियान शाम 5 बजे थम जाएगा। लिहाजा हर कोई राजनीतिक दल मतदाताओं को लुभाने के लिए पूरी ताकत झोंक रहा है। दोनों ही राज्यों में प्रमुख दलों के बड़े चेहरे चुनाव प्रचार में उतर रहे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a bid to check candidates luring voters, the Aam Aadmi Party has taken on rent 14,200 spy cameras in Punjab to catch on tape those offering cash and liquor ahead of February 4 assembly polls.
Please Wait while comments are loading...