शुरू हुई अमरनाथ यात्रा, देखिए बाबा बर्फानी की पहली तस्वीरें

Subscribe to Oneindia Hindi

श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर में घाटी स्थित बाब बर्फानी के दर्शन का आज पहला दिन है। भक्तों की लंबी लंबी कतार बाबा अमरनाथ के दर्शन के लिए पहुंच रही है। ये तस्वीरें आज की पहली तस्वीरें हैं जो आप आगे देखने जा रहे हैं। आज गुरुवार को राज्य के राज्यपाल एनएन वोहरा ने भी बाबा बर्फानी के दर्शन किए।

यहां से शुरू होती है यात्रा

यहां से शुरू होती है यात्रा

हर साल कश्मीर से शुरू होने वाली यात्रा के लिए 4,000 यात्रियों के पहले जत्थे को जम्मू और कश्मीर के उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने बुधवार को रवाना किया था। दक्षिण कश्मीर में स्थित बाबा बर्फानी की गुफा तक पहुंचने के लिए अनंतनाग और गंदेरबाल जिलों के पहलगाम और बालटाल में आधार शिविर बनाए गए हैं। श्रीनगर से 141 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बाबा बर्फानी की गुफा 3,888 मीटर (12,756 फुट) की उंचाई पर स्थित है।

यह है मान्यता

यह है मान्यता

माना जाता है कि बहुत पहले घाटी पानी में डूब गई थी और कश्यप मुनि ने अनेक यत्न कर पानी बाहर की ओर निकाला। जब पानी खत्म हुआ तो उन्होंने ही अमरनाथ के सबसे पहले दर्शन किए। इसके बाद यह भी लोगों की आस्था का स्थान बन गया।

30 हजार जवान तैनात

30 हजार जवान तैनात

यात्रा पर आतंकी हमले का खतरा देखते हुए दो रास्तों पर 30 हजार अर्धसैनिक जवानों को तैनात किया गया है। लगभग 28 किलोमीटर के रास्ते में पहलगाम रुट में सुरक्षाकर्मियों को लगाया गया है। इस यात्रा को सफल बनाने के लिए भारतीय सेना की पांच बटालियन के साथ-साथ सीआरपीएफ, बीएसएफ और सीमा सुरक्षा बल भी तैनात किए गए हैं।

सुरक्षा के सभी उपाय मौजूद

सुरक्षा के सभी उपाय मौजूद

अमरनाथ के यात्रा के दौरान बड़ी संख्या में तमाम विभागों के लोगों को तैनात किया जाता है। खासतौर से ऊंचाई होने के कारण चिकित्सकीय विभाग के लोगों को ज्यादा चौकन्ना रहना होता है ताकि किसी यात्री को दिक्कत ना हो सके। (तस्वीर में- गुरुवार को बाबा बर्फानी के दर्शन करते राज्यपाल एनएन वोहरा)

ये भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रा की अभेद सुरक्षा, बुलेट प्रुफ टैंट से लेकर सेटेलाइट ट्रैकिंग सिस्टम का इस्तेमाल

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Public offered prayers at Amarnath Shrine in Anantnag on the first day of Amarnath Yatra.
Please Wait while comments are loading...