जीबी रोड सेक्स रैकेट का सरगना गिरफ्तार, खुलेंगे बड़े राज?

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। दिल्ली के जीबी रोड से मानव तस्करी गिरोह के भंडाफोड़ होने के बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने इसके सरगना सरफराज बिल्ली को भी गिरफ्तार कर लिया है।

arrest

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने की गिरफ्तारी

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने गुरुवार देर शाम मुख्य सरगना को बुलंदशहर से गिरफ्तार कर लिया। गिरोह का भंडाफोड़ होने के बाद से सरफराज बिल्ली बुलंदशहर में छिपा हुआ था।

दिल्‍ली की 'कोठा क्‍वीन' गिरफ्तार, जिस्‍मफरोशी से रोज होती थी 10 लाख की कमाई

सरफराज बिल्ली ही इस पूरे मामले का मुख्य आरोपी था। उसके दो साथी अफाक हुसैन और सायरा बेगम पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं।

अफाक हुसैन और सायरा से पूछताछ के बाद ही सरफराज बिल्ली के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया था। गिरफ्तार दोनों आरोपियों ने बताया था कि पूरे गिरोह का कामकाज सरफराज बिल्ली ही देखता था।

बुलंदशहर में छिपा था सरगना सरफराज बिल्ली

डीसीपी भीष्म सिंह के नेतृत्व में बनाई गई टीम ने उसे खोजने में सफलता हासिल की। बिल्ली साथ इस गिरोह में उसके कुछ एजेंट तो थे ही साथ ही कुछ और सहयोगी भी थे उनमें राशिद कश्मीरी, शेहनाज और अनु का नाम सामने आ रहा है। उनका ये पूरा मानव तस्करी का नेटवर्क नेपाल और दूसरे देशों में फैला हुआ था।

उ. कोरिया में स्थापना दिवस पर किम जोन उंग ने किया 5वां परमाणु परीक्षण !

जानकारी में खुलासा हुआ है कि बिल्ली आमतौर पर अफाक हुसैन से ही गिरोह के दिनभर के कामकाज का ब्यौरा हासिल करता था। वहीं तीन महिलाएं मुमताज, शिल्पा और बीना के सहायता से कोठा चलाया जाता था।

कई देशों में फैला हुआ था इस गिरोह का कारोबार

जानकारी मिली है कि उन्हें इसके लिए पच्चीस हजार से तीस हजार की तनख्वाह दी जाती थी।

इसके अलावा बिल्ली स्थानीय पुलिस को अपना व्यापार चलाने के लिए घूस भी देता था। इसके अलावा लड़कियों को उनकी मर्जी के बाद ही कोठे और तस्करी के लिए लाया जाता था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Prime accused of human trafficking racket run at GB road arrested from Bulandshahr. Sarfaraz Billi, was finally arrested by the Delhi Police crime branch.
Please Wait while comments are loading...