बेंगलुरु में महिलाओं से छेड़छाड़ के पक्के सबूत मिले, पुलिस ने दर्ज किया केस

कमिश्नर ने कहा, 'हमने इस मामले में एक्शन लेते हुए एफआईआर दर्ज कर ली है। जांच की जा रही है। पुलिस काम कर रही है लेकिन शांतिपूर्वक। मामले की जांच डीसीपी रैंक के एक अधिकारी को दी गई है।'

Subscribe to Oneindia Hindi

बेंगलुरु। नए साल के जश्न की शाम कई महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले में बेंगलुरु पुलिस ने पुख्ता सबूत मिलने के बाद केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने दावा किया है कि उसके पास इस घटना के विश्वसनीय सबूत हैं। घटना को लेकर पुलिस की ओर से एक्शन न लिए जाने पर उठ रहे सवालों के जवाब में बेंगलुरु के कमिश्नर प्रवीण सूद ने एक के बाद एक कई ट्वीट करके कहा कि उनकी टीम शांतिपूर्वक काम कर रही थी। उन्होंने लिखा, 'जैसा हमने वादा किया था, हमें पुख्ता सबूत मिल गए हैं। हमारे पास सबूत हैं कि नए साल के जश्न की शाम कई सारी महिला से गलत व्यवहार किया गया, उनसे छेड़छाड़ की गई और लूटने की कोशिश भी हुई।'

बेंगलुरु में महिलाओं से छेड़छाड़ के पक्के सबूत मिले, पुलिस ने दर्ज किया केस

45 कैमरों की फीड से मिले सबूत
कमिश्नर ने कहा, 'हमने इस मामले में एक्शन लेते हुए एफआईआर दर्ज कर ली है। जांच की जा रही है। पुलिस काम कर रही है लेकिन शांतिपूर्वक। मामले की जांच डीसीपी रैंक के एक अधिकारी को दी गई है।' उन्होंने बताया कि पुलिस ने एमजी रोड पर हुए घटनाक्रम को 45 कैमरों की फीड पर देखा है और सभी का असली वीडियो पुलिस के पास है। प्रत्यक्षदर्शियों के अकाउंट बताते हैं कि महिलाओं से छेड़छाड़ हुई, उन्हें गलत ढंग से छुआ गया और गंदे कमेंट्स भी पास किए गए। यह सब कुछ बेंगलुरु के उस पॉश इलाके में हुआ जहां दावा किया जा रहा था कि 1500 पुलिसकर्मी भीड़ को काबू करने के लिए लगाए गए हैं।

पढ़ें: महिलाओं से छेड़खानी पर बोले सपा नेता, शक्कर पर चींटी आएगी ही

'बिना देरी के कार्रवाई करेगी पुलिस'
शुरुआत में पुलिस ने कहा कि घटना के संबंध में कोई भी पीड़ित सामने नहीं आया है और न ही ऐसी कोई शिकायत दर्ज कराई गई है। कमिश्नर प्रवीण सूद ने 2 जनवरी को ट्वीट किया, 'अगर कोई भी महिला 31 दिसंबर की रात हुई छेड़छाड़ या अन्य घटना को लेकर शिकायत दर्ज कराने आती है तो पुलिस एक मिनट की भी देरी नहीं करेगी और केस दर्ज करेगी।' उन्होंने यह भी कहा कि बिना किसी शिकायत के भी अगर पुलिस को छेड़छाड़ को लेकर कोई सबूत मिलता है तो तुरंत इस मामले में केस दर्ज किया जाएगा। बता दें कि प्रवीण सूद ने एक जनवरी को ही सिटी कमिश्नर पद संभाला है। उनके पहले इस पद पर एनएस मेघारिख थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Police finds evidence in Bengaluru molestation case registers FIR.
Please Wait while comments are loading...