मोदी ने भिखारी के जिस वीडियो का किया था जिक्र, उसकी ये है हकीकत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मुरादाबाद में रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक वॉट्सएप वीडियो का जिक्र किया था, जिसमें एक भिखारी के पास स्वाइप मशीन था। उस वीडियो का सच सामने आ गया है।

beegar video

पीएम मोदी ने जिस वीडियो का जिक्र किया वो प्रमोशनल वीडियो था

3 दिसंबर को रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना का जिक्र किया। हालांकि उनके इस उदाहरण में कितनी सच्चाई थी इसकी पड़ताल की गई तो वीडियो का सच सामने आया।

पीएम मोदी बोले, नोटबंदी पर चर्चा को लेकर विपक्ष का रवैया अलोकतांत्रिक

पता चला है कि जिस वीडियो का पीएम मोदी ने अपने भाषण में किया वो एक प्रमोशनल वीडियो था जिसे हैदराबाद के प्रोसेसिंग और विजुअलाइजेशन कंपनी न्यूमेरो ग्राफिक क्रिएटिव सोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड ने बनाया था।

वीडियो में एक भिखारी कार से जा रही एक महिला से कहता है कि आप डेबिट कार्ट से पेमेंट कर सकती हैं। इसके बाद भिखारी अपने बैग से पीओएस मशीन निकालता है। ये वीडियो नवंबर 2013 का है और इसे 16 जनवरी 2014 में यूट्यूब पर पोस्ट किया गया।

2013 में बनाया गया था ये वीडियो

न्यूमेरो ग्राफिक की को-फाउंडर कुलप्रीत कौर ने बताया कि ये एक प्रमोशनल वीडियो था जिसे हमने बनाया था। हमने ही उस भिखारी को स्वाइप मशीन दिया था, जिससे कि ये वीडियो बनाया जा सके। बता दें कि न्यूमेरो ग्राफिक भविष्य की तकनीक और हाईटेक सोल्यूशंस को बढ़ावा देता है।

नोटबंदी के 29 दिन बाद आरबीआई ने बताईं 14 अहम बातें

कुलप्रीत कौर ने बताया कि मैं और मेरे सहयोगी ने मार्च 2013 में न्यूमेरो यूनो की शुरूआत की और कंपनी का प्रमोशन क्रिएटिव वीडियो के जरिए करने की योजना बनाई। हम अकसर ट्रैफिक सिग्नल पर भिखारियों को देखते थे कि कैसे वो लोगों से छुट्टे पैसे की मांग करते थे?

हमने क्रिएटिव सोल्यूशन टीम के साथ मिलकर भिखारी का वीडियो बनाने की योजना बनाई, जो छुट्टे की समस्या के चलते पीओएस मशीन का इस्तेमाल करता नजर आए।

मुरादाबाद में रैली के दौरान पीएम मोदी ने किया था वीडियो का जिक्र

न्यूमेरो ग्राफिक की को-फाउंडर कुलप्रीत कौर ने बताया कि हमारे दिमाग में उस समय ये विचार नहीं था कि नोटबंदी या कैशलेश इकोनॉमी जैसा कुछ होगा। हमने मोबाइल फोन से ही इस वीडियो को बनाने की योजना बनाई।

देश में पिछले 70 साल में कुछ भी सामान्य नहीं कहा जा सकता: जेटली

हमने बंजारा हिल्स के साईं बाबा मंदिर पहुंचे जहां रोज बहुत से भिखारी एकत्र होते थे। वहीं हमने एक भिखारी को इस वीडियो के लिए मना लिया। हालांकि हमने उनका नाम नहीं पूछा लेकिन उन्हें अपना पूरा प्लान बताया।

उन्होंने तय जगह पर पहुंचकर पूरा वीडियो बनाने में हमारा सहयोग किया। ये पूरा वीडियो ट्रैफिक सिग्नल पर बनाया गया जैसे ही रेड लाइट हुई वहां से शुरू होकर सिग्नल ग्रीन होने तक में ये पूरा वीडियो बन गया।

कुलप्रीत कौर ने बताया कि हमने ऐसे कई क्रिएटिव वीडियो बनाए हैं। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस वीडियो के जिक्र के बाद हमारा ये वीडियो एक बार फिर से वायरल हो गया है। देखिए वीडियो...

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PM Modi referred beggar using swipe machine video reality.
Please Wait while comments are loading...