जल्द ही आप 'पेप्सी राजधानी' या 'कोक शताब्दी' में यात्रा करते नजर आ सकते हैं, रेलवे बना रहा खास योजना

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। आप जल्द ही किसी ब्रांडेड रेलवे स्टेशन से 'पेप्सी राजधानी' या फिर 'कोक शताब्दी' में यात्रा करते नजर आ सकते हैं। रेलवे ऐसी ही एक योजना पर विचार कर रहा है, जिसके तहत बिना यात्री किराया और मालभाड़ा बढ़ाए, ब्रांड ट्रेन और ब्रांड स्टेशन के जरिए रेलवे का राजस्व बढ़ाया जाए। रेलवे की इस योजना के तहत कोई भी ब्रांड या कंपनी ट्रेन या फिर रेलवे के पूरे मीडिया अधिकार खरीद सकेगी। इस योजना से संबंधित प्रस्ताव तैयार किया जा चुका है, संभावना है कि अगले हफ्ते होने वाली रेलवे बोर्ड की बैठक में इसे मंजूरी के लिए रखा जा सकता है। टीओआई में छपी खबर के मुताबिक नई नीति के तहत कंपनी किसी भी ट्रेन के पूरे मीडिया अधिकार खरीद सकती है। इसके बाद कंपनी ट्रेन की बोगी के बाहर और अंदर दोनों ही जगह अपना प्रचार कर सकती हैं।

train ट्रेन के नाम हो सकते हैं 'पेप्सी राजधानी' और 'कोक शताब्दी'

रेलवे से जुड़े वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रेलवे की योजना पहले अलग-अलग प्रचार अधिकार बेचने की थी लेकिन अब इसमें बदलाव करते हुए पूरी ट्रेन के मीडिया अधिकार बेचने की योजना बनाई गई है। इसके साथ-साथ रेलवे स्टेशन के भी मीडिया अधिकार लंबी अवधि के आधार पर बड़े कॉरपोरेट्स को देने की योजना बनाई गई है। ये योजना हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक के बाद तेजी से आगे बढ़ी है। दरअसल, इस बैठक में रेलवे अधिकारियों से पूछा गया कि आखिर रेलवे का राजस्व विज्ञापन या फिर किसी अन्य तरीके से कैसे आगे बढ़ाया जा सकता है? इसके बाद ही ट्रेन और रेलवे स्टेशन के मीडिया अधिकार बेचने को लेकर योजना बनाई गई। बता दें कि ऐसी ही एक योजना का ऐलान पिछली यूपीए सरकार में भी हुआ था, लेकिन इसे आगे नहीं बढ़ाया जा सका।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार रेलवे के आधुनिकीकरण को लेकर चर्चा करते रहे हैं, उनकी योजना रेलवे स्टेशनों को वर्ल्ड क्लास बनाने और यात्रियों पर बोझ डाले बिना रेलवे का राजस्व बढ़ाने पर ज्यादा रहा है। रेलवे की योजना दो हजार करोड़ रुपये का राजस्व बिना किराया बढ़ाए हासिल करने पर है। पिछले साल रेलवे ने चार ट्रेनों के बाहर विज्ञापन लगाने का अधिकार बेचा था, 8 करोड़ रुपये में एक साल के लिए ये विज्ञापन अधिकार बेचा गया। इसमें मुंबई राजधानी, अगस्त क्रांति राजधानी, मुंबई अहमदाबाद शताब्दी और अहमदाबाद-मुंबई डबल-डेकर ट्रेन शामिल हैं। ट्रेन ब्रांडिंग पैकेज की शुरूआत चरणबद्ध तरीके से बोली के माध्यम से की जाएगी। इसकी शुरूआत राजधानी और शताब्दी सेवाओं से की जाएगी।

इसे भी पढ़ें:- जल्द ही रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर ले सकेंगे सात फेरे, आ रही है ये योजना

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
'Pepsi Rajdhani' or 'Coke Shatabdi', railways readies plan to brand trains and stations.
Please Wait while comments are loading...